साइना पहुंची प्री क्वार्टर फ़ाइनल में

  • 30 जुलाई 2012
सायना नहवाल (फ़ाइल फ़ोटो) इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption सायना से भारत को बहुत उम्मीदें हैं

ग्रुप ई के महिला सिंगल्स मुकाबले में अपने दूसरे मैच भारत की साइना नेहवाल ने आसान जीत दर्ज की है. साइना नेहवाल ने बेलजियम की लिएन टैन को 21-04, 21-14 से मात दी.

इससे पहले साइना नेहवाल ने अपने अभियान की शुरुआत स्विट्जरलैंड़ की सबरीना जैकेट को दो सीधे सेटों में 21-9, 20-4 से हराते हुए की थी.

दूसरी तरफ़ बैडमिंटन की महिला युगल प्रतिस्पर्धा में भारत की ज्वाला गुट्टा और अश्विनी पोनप्पा की जोड़ी ने जीत दर्ज की.

भारतीय जोड़ी ने चीनी चाईपे की 10 वरियता प्राप्त यो चिन चेन और वेन जिंग चेंग की जोड़ी को तीन सेट तक चले मुक़ाबले में 25-23, 16-12 और 21-18 से हराया.

भारतीय जोड़ी इससे पहले अपना पहला लीग मुक़ाबला हार गई थी और प्रतियोगिता में बने रहने के लिए उनके लिए ये जीत ज़रुरी थी.

अगले लीग मैच में भारतीय जोड़ी का सामना सिंगापुर की जोड़ी से होगा.

ज्वाला गुट्टा और वी दीजू की मिश्रित जोड़ी पहले ही प्रतियोगिता से बाहर हो चुकी है.

लेकिन लंदन ओलंपिक के पुरुष हॉकी प्रतियोगिता में एक कड़े मुक़ाबले में भारत हॉलैंड से 2-3 से हार गया है.

मैच के शुरुआती कुछ मिनटों में भारतीय खिलाड़ियों ने आक्रामक हॉकी खेली और हॉलैड को दबाव में डाला.

लेकिन जल्द ही हॉलैंड की अनुभवी टीम लय में आ गई और भारतीय रक्षा पंक्ति को लगातार चुनौती मिलने लगी.

खेल के 19वें मिनट में वॉन डर हर्स्ट ने गोल कर हॉलैंड को आगे कर दिया.

9 मिनट बाद रौ़ड्रिक वूस्टहौफ़ ने हॉलैंड के लिए दूसरा गोल दागा.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption भारतीय रक्षा पंक्ति को तोड़ने में हॉलैंड की टीम तीन बार सफल हुई. तस्वीर एएफपी

भारतीय टीम दबाव में आ गई थी लेकिन दूसरे हाफ में टीम ने बेहतर प्रदर्शन किया.

44 वें मिनट में धरमवीर सिंह ने डिफेंडर और गोलकीपर को छकाते हुए गेंद को गोल पोस्ट में डाल दिया.

फिर 47 वें मिनट में शिवेंद्र सिंह ने गोल कर 2-2 की बराबरी कर दी.

लेकिन 19 मिनट बचे हुए थे जब एक पेनल्टी कॉर्नर पर जबर्दस्त हिट के साथ गोल कर हॉलेंड ने फिर बढ़त बना ली.

आखिरी मिनटों में भारतीय टीम ने कई आक्रमण किए लेकिन गोल करने में टीम सफल नहीं रही.

स्टेडियम में हजारों की संख्या में प्रशंसकों ने भारतीय टीम का समर्थन किया. हालांकि भारतीय टीम हार गई लेकिन उनके प्रशंसको को थोड़ा हौसला इस बात से मिला की टीम ने आखिरी मिनट तक संघर्ष किया और बढ़िया हॉकी का प्रदर्शन किया.

पूल बी के पहले मैच में दक्षिण कोरिया ने न्यूज़ीलैंड को 2-0 से पराजित कर दिया.

वहीं पूल ए में ऑस्ट्रेलिया ने दक्षिण अफ्रीका को 6-0 से रौंद डाला जबकि पाकिस्तान और स्पेन का मैच 1-1 की बराबरी पर छूटा.

संबंधित समाचार