चीनी एथलीट ने कहा, नहीं लिया ड्रग्स

  • 31 जुलाई 2012
ये शिवेन इमेज कॉपीरइट AFP getty
Image caption शिवेन की तुलना अमरीकी तैराक रियान से हो रही है

लंदन ओलंपिक में व्यक्तिगत तैराकी स्पर्धा में नया कीर्तिमान बनाने वाली चीन की युवा तैराक ये शिवेन का कहना है कि उन्होंने किसी तरह की कोई शक्तिवर्धक दवा या ड्रग्स नहीं लिया है.

उन्होंने ये भी कहा है कि उनका प्रदर्शन कड़ी मेहनत का नतीजा है.

सोलह वर्षीय शिवेन का ये बयान तब आया है जब अमरीका के एक अग्रणी कोच ने उनके प्रदर्शन पर सवाल उठाए हैं.

ओलंपिक में डोपिंग टेस्ट

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption शिवेन ने अंतिम क्षणों में बिजली की गति से तैरकर सबकों दंग कर दिया

वैसे शिवेन के खिलाफ ड्रग्स लेने का कोई सुबूत नहीं मिला है और पदक जीतने वाले सभी खिलाड़ियों का डोपिंग टेस्ट किया जाता है.

सोमवार को हुई स्पर्धा में शिवेन ने अपना ही व्यक्तिगत रिकॉर्ड तोड़ते हुए पहले के मुकाबले पांच सेकंड कम समय लेकर 400 मीटर तैराकी में स्वर्ण पदक अपने नाम किया था.

इतना ही नहीं, आखिरी 50 मीटर की दूरी उन्होंने जिस गति से तैरकर पार की, वो पुरुषों की स्पर्धा में अमरीकी स्टार रियान से कहीं अधिक थी.

'अविश्वसनीय' प्रदर्शन

शिवेन के गजब के प्रदर्शन से कमेंटेटर भी दंग रह गए थे और उन्होंने तभी कह दिया था कि इस तैराक के प्रदर्शन पर सवाल उठेंगे.

'वर्ल्ड स्विमिंग कोचेस एसोसिएशन' के कार्यकारी निदेशक जॉन लियोनार्ड का कहना है कि शिवेन का प्रदर्शन 'अविश्वसनीय' और 'परेशान करने वाला' है.

लेकिन अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के मेडिकल कमीशन के अध्यक्ष अर्ने जुंगक्विस्ट ने इन अटकलों को 'दुखद' बताया है.

उनका कहना है, ''किसी खिलाड़ी के असाधारण प्रदर्शन को देखने के फौरन बाद ही उस पर संदेह जताना मेरे हिसाब से खेलों के आकर्षण के खिलाफ है.''

'उम्मीद के अनुरूप प्रदर्शन'

संदेहों के बारे में पूछे जाने पर शिवेन ने संवाददाताओं से कहा, ''ये मेरी कड़ी मेहनत और प्रशिक्षण का परिणाम है, मैं कभी किसी प्रतिबंधित दवा का सेवन नहीं करूंगी.''

वहीं चीन की शिन्हुआ समाचार एजेंसी के मुताबिक, चीन की तैराकी टीम के दलनायक शू छी का कहना है कि शिवेन से इसी प्रदर्शन की उम्मीद थी.

वे कहते हैं, ''रियान से शिवेन के प्रदर्शन की तुलना करने का कोई औचित्य नहीं है.''

शू छी का कहना है, ''शिवेन 300 मीटर के बाद पिछड़ गई थीं और दौड़ जीतने के लिए उन्हें बेहतरीन प्रदर्शन की जरूरत थी, लेकिन रियान ने तो पहले ही बढ़त बना ली थी और उन्हें ज्यादा मेहनत की जरूरत नहीं थी.''

ओलंपिक में यदि कोई खिलाड़ी बेहद असाधारण प्रदर्शन करता है और उन पर ड्रग्स लेने का संदेह जताया जाए तो संबंधित खिलाड़ी के अतिरिक्त परीक्षण भी किए जा सकते हैं.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार