कौन हैं ओलंपिक के सबसे उम्रदराज़ खिलाड़ी?

  • 4 अगस्त 2012
होकत्सु इमेज कॉपीरइट AP
Image caption होकत्सु ऐसे एकमात्र खिलाड़ी हैं जो 1964 को टोकियो ओलंपिक में हिस्सा ले चुका है.

जापान के ओलंपिक खिलाड़ी हिरोशी होकेत्सु पदक नहीं जीत पाए मगर एक खिताब अपने नाम ज़रूर कर लिया, वे इस ओलंपिक के सबसे उम्र दराज़ खिलाड़ी हैं.

यही नहीं, बीजिंग ओलंपिक में भी वे ही सबसे बूढ़े खिलाड़ी थे, तब उनकी उम्र 68 साल थी और अब 72 के होने वाले हैं.

बात यहीं ख़त्म नहीं होती, होकत्सु ऐसे एकमात्र खिलाड़ी हैं जो 1964 को टोकियो ओलंपिक में हिस्सा ले चुका है, वे पिछले 48 वर्षों से ओलंपिक खेलों में शामिल होते रहे हैं.

उनके कितने घोड़े बूढ़े हो गए होंगे मगर सवार की हड्डियों में अब भी काफ़ी दम है.

लंदन ओलंपिक में पदक से दूर रहने के बावजूद उनका प्रदर्शन काफ़ी सराहा गया.

वज़न काम न आया

लंदन 2012 के सबसे भारी भरकम खिलाड़ी अपने से आधे वज़न वाले खिलाड़ी से पिटकर बाहर हो गए हैं.

ग्वाम के जूडो खिलाड़ी रिकार्डो ब्लास का वज़न 218 किलो है, उन्हें क्यूबा के ऑस्कर ब्रायन ने पछाड़ दिया, जीतने वाले खिलाड़ी का वज़न हारने वाले खिलाड़ी से 110 किलो कम था.

रिकार्डो जूडो के ख़ानदानी खिलाड़ी हैं, उनके पिता रिकार्डो सीनियर 1988 के सोल ओलंपिक खेलों में हिस्सा ले चुके हैं जिनकी प्रेरणा से रिकार्डो जूनियर लंदन आए थे.

हिम्मत की मिसाल

अफ़ग़ानिस्तान की एकमात्र महिला एथलीट ओलंपिक खेलों से पहले ही बाहर हो चुकी हैं मगर उनका संदेश लाखों लोगों तक पहुँचा है.

100 मीटर की दौड़ में आख़िरी नंबर पर आने वाली 23 वर्षीया तहमीना कोहिस्तानी का कहना है कि उनका ओलंपिक खेलों में हिस्सा लेना ही एक बहुत बड़ी कामयाबी है.

उन्होंने कहा, "बहुत सारे लोग मेरे दौड़ने के ख़िलाफ़ थे, वे मुझ पर दबाव डालते थे कि एक अफ़ग़ान लड़की के लिए खेलों में हिस्सा लेना ठीक नहीं है."

इसके बावजूद तहमीना के हौसले बुलंद हैं, वे 2016 के रियो ओलंपिक में भी हिस्सा लेंगी जिसके लिए वह अभी से तैयारी शुरू कर देंगी.

वो जो भूमिका निभा रही हैं उसका अंदाज़ा उन्हें अच्छी तरह है, वे कहती हैं कि एकमात्र अफ़ग़ान महिला के रूप में ओलंपिक में हिस्सा लेने स्वर्ण पदक जीतने से कम नहीं है.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए