ओलंपिक क्वार्टर फ़ाइनल में विजेंदर हारे

इमेज कॉपीरइट Getty

बीजिंग ओलंपिक में भारत को बॉक्सिंग का पहला पदक दिलवाने वाले मुक्केबाज़ विजेंदर सिंह लंदन ओलंपिक में पदक से चूक गए हैं.

क्वार्टर फ़ाइनल मुकाबले में विजेंदर सिंह को उज़बेकिस्तान के अब्बोस अतोव ने 17-13 से हराया.

पहले दौर में विजेंदर सिंह और उज़बेक मुक्केबाज़ दोनों 3-3 के स्कोर पर बराबर रहे. दूसरे दौर में स्कोर रहा 5-7 और उज़बेक मुक्केबाज़ ने दो अंक की बढ़त हासिल की.

तीसरे दौर में भी विजेंदर सिंह ने बढ़त को कम करने की कोशिश की लेकिन वो ऐसा नहीं कर पाए और तीसरा दौर भी 5-7 से उज़बेक मुक्केबाज़ के ही नाम रहा. विजेंदर सिंह से भारतीय दर्शकों को ख़ासी उम्मीदें थीं लेकिन वो उम्मीदों पर खरे नहीं उतर पाए.

मुकाबले के बाद बीबीसी संवाददाता पंकज प्रियदर्शी से बातचीत में विजेंदर सिंह ने कहा, “मैं हार से बहुत निराश हूं. हमने बहुत अच्छी तैयारियां की थीं. लेकिन दूसरे राउंड में कुछ गलतियां हो गई और गलतियां तो किसी से भी हो सकती हैं.”

हार से निराश विजेंदर सिंह ने इसके अलावा कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया.

विजेंदर सिंह का ये तीसरा ओलंपिक था. उन्होनें 2008 के बीजिंग ओलंपिक में भारत के लिए मुक्केबाज़ी का पहला पदक जीता था.

लंदन ओलंपिक में भारत ने अब तक सात पुरुष मुक्केबाज़ों का सबसे बड़ा दल भेजा था. ओलंपिक मुकाबलों के पुरुष वर्ग में अब एल देवेंद्रो सिंह के रुप में भारत की एक ही चुनौती बाकी है.

चक्का फेंक में उम्मीद बंधी

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption विकास गौड़ा ने चक्का फेंक फाइनल के लिए क्वालिफाई किया

ऐथेलेटिक्स की बात की जाए तो भारत के विकास गौड़ा चक्का फेंक प्रतिस्पर्धा के फाइनल के लिए क्वालिफाई कर गए हैं. लंदन ओलंपिक के लिए अमरीका में ट्रेनिंग कर रहे विकास गौड़ा ने क्वालिफाईंग दौर में 65.20 मीटर चक्का फेंक फाइनल में जगह बनाई. इस स्पर्धा का फाइनल मुकाबला मंगलवार को खेला जाएगा.

इसके अलावा निशानेबाज़ी में भी भारत के लिए सोमवार का दिन अच्छा नहीं रहा.

पुरूषों की 50 मीटर राइफ़ल थ्री पोज़ीशन मुक़ाबलों के क्वालिफ़ाइंग दौर में गगन नारंग अच्छा नहीं कर पाए. इस दौर में गगन नारंग को 20वां स्थान मिला और क्वालिफाई करने से चूक गए.

इसी स्पर्धा में भारत के ही एक और निशानेबाज़ संजीव राजपूत भी क्वालिफाई करने से चूक गए और 27वें स्थान पर रहे.

पुरूषों के ट्रैप मुक़ाबलों के क्वालिफ़ाइंग राउंड के दूसरे दिन मानवजीत सिंह संधू का कुल स्कोर 119 अंक रहा और वो फाइनल मुकाबले के लिए क्वालिफाइ नहीं कर पाए. इस स्पर्धा में अमरीकी निशानेबाज़ माइकल डॉयमंड ने 150 में से 150 निशाने लगाते हुए फाइनल के लिए क्वालिफाई किया है.

संबंधित समाचार