मैरीकॉम के लिए ब्रिटेन में दुआएँ

  • 8 अगस्त 2012
छात्र इमेज कॉपीरइट bbc
Image caption इन स्कूलों में छात्र भारतीय गानों पर डांस करते है और छात्राएं साड़ी पहनकर भारतीय दिखने की कोशिश करती हैं

लंदन ओलंपिक में महिला मुक्केबाज़ मैरीकॉम और ब्रिटेन की निकोला एडम्स के बीच होने वाले मुकाबले को लेकर भारत में तो उत्साह है ही ब्रिटेन के उत्तरी आयरलैंड की राजधानी बेलफ़ास्ट के दो स्कूलों में भी उनकी जीत के लिए बच्चों ने दुआ की है.

बेल्फास्ट के स्कूल मेथोडिस्ट कॉलेज और बेल्फास्ट के पास स्थित एक और शहर बेलींमेना के बेलिकील प्राइमरी स्कूल के बच्चों को भारत के उन स्कूलों के बच्चों से संपर्क करने का या ट्विनिंग का बीबीसी ने मौका दिया जहाँ मैरीकॉम ने पढ़ाई की थी.

दरअसल ट्विनिंग वह व्यवस्था होती है जिसमें एक देश के स्कूल के छात्र दूसरे देश के छात्रो के साथ अपने अनुभव साझा कर सकें, कुछ सीख सकें, एक अलग दुनिया, समाज और संस्कृति को समझ सकें.

उत्तरी आयरलैंड के ये दो स्कूल ऐसे थे जहां बॉक्सिंग को लेकर थोड़ी दिलचस्पी थी इसलिए ये स्कूल एक दूसरे से जुड़ गए.

उत्साह

बेलिकील प्राइमरी स्कूल की अध्यापिका जेन ऑर ने बताया, ''हमें मैरीकॉम के स्कूल के साथ जो़ड़े जाने का कारण ये है कि पिछले कुछ वर्षों में हमारे कुछ छात्र बॉक्सिंग में काफी सक्रिय रहे थे. एक ने स्थानीय और राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में अच्छा प्रदर्शन भी किया. हमने अपने आवेदन में बॉक्सिंग का जिक्र किया था लगता है इस कारण हमें मैरीकॉम के साथ ट्विन कर दिया गया.''

इन स्कूलों में वैसे भी भारत को लेकर काफी उत्सुकता है. बच्चे यहाँ भारतीय गानों पर डांस करते है और छोटी बच्चियाँ साड़ी पहनकर भारतीय दिखने की कोशिश करती हैं.

बुधवार को जब मैरीकॉम मुकाबले के लिए बॉक्सिंग रिंग में उतरेंगी तो भारतीय ही नहीं सवा सात हज़ार किलोमीटर दूर स्थित उत्तरी आयरलैंड के इन स्कूलों के छात्रों की निगाह भी होगी मैरीकॉम की कामयाबी पर.

हालांकि उनके सामने दुविधा ये भी होगी वे किसका साथ दें क्योंकि मैरीकॉम की प्रतिद्वंद्वी होगी ब्रिटेन और उत्तरी आयरलैंड के ओलंपिक दल की निकोला एडम्स.

ऐसे में इन छात्रों के लिए चुनाव मुश्किल होगा क्योंकि देश बड़ा होगा या दोस्त.

संबंधित समाचार