एंड्रयू स्ट्रॉस का हर तरह के क्रिकेट को अलविदा

 बुधवार, 29 अगस्त, 2012 को 17:35 IST तक के समाचार
स्ट्रास

स्ट्रास की कप्तानी में ही इंग्लैंड टीम पहली बार आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में पहली बार नंबर वन पर पंहुची

इंग्लैंड के टेस्ट कप्तान एंड्रयू स्ट्रॉस ने बुधवार को हर तरह के क्रिकेट से सन्यास की घोषणा कर दी. स्ट्रॉस ने इंग्लैंड के लिए सौ टेस्ट मैच खेले हैं. इनमें 50 में वह कप्तान थे.

वनडे टीम की कमान संभाल रहे एलिएस्टर कुक अब टेस्ट टीम के भी कप्तान होंगे. नवंबर में होने वाला चार टेस्ट मैच का भारतीय दौरा बतौर कप्तान उनकी पहली जिम्मेदारी होगी.

" साफ है कि मेरे लिए यह फैसला काफी मुश्किल था. लेकिन मेरा यह मानना है कि इस समय यह फैसला मेरे और इंग्लैंड के क्रिकेट दोनों के लिए अच्छा है"

स्ट्रास

स्ट्रॉस ने कहा, “साफ है कि मेरे लिए यह फैसला काफी मुश्किल था. लेकिन मेरा यह मानना है कि इस समय यह फैसला मेरे और इंग्लैंड के क्रिकेट दोनों के लिए अच्छा है.”

स्ट्रॉस की कप्तानी में ही इंग्लैंड टीम पहली बार आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में पहली बार नंबर वन पर पंहुची.

अपनी नई जिम्मेदारी के बारे में कुक ने कहा, "मैं इस नई चुनौती को लेकर काफी उत्साहित हूं. टेस्ट टीम का कप्तान होना एक बहुत बड़ा सम्मान है. मुझे भारत के खिलाफ होने वाली सीरीज को लेकर काफी उम्मीदें हैं."

स्ट्रॉस ने कहा, “बतौर क्रिकेटर मैंने जो भी हासिल किया, मुझे उस पर गर्व है. मुझे इंग्लैंड के लिए ऐसे समय में खेलने का मौका मिला जब उसके क्रिकेट ने कुछ यादगार लम्हें देखे. मैंने उन हर पलों को जिया है. मैं एंडी, एलिएस्टर और बाकी की टीम को आने वाले महीनों के लिए शुभकामनाएं देता हूं. अब मैं मैदान के बाहर बैठ कर खेल का मजा लूंगा”.

बुरा दौर

स्ट्रॉस ने यह फैसला ऐसे समय में किया है जब उनकी टीम बुरे दौर से गुजर रही है. पिछले हफ्ते ही दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज 0-2 से हारने के बाद टीम ने आईसीसी रैंकिंग में नंबर वन का खिताब गवाया है.

हालांकि स्ट्रॉस की कप्तानी में ही इंग्लैंड ने लगातार दो बार एशेज सीरीज जीती. पिछले साल भारत को अपने घर में 4-0 से हराने के बाद इंग्लैंड ने रैंकिंग में टॉप पर कब्जा किया था. लेकिन उसके बाद से टीम ने छह टेस्ट मैच हारे हैं. इनमें यूएई में पाकिस्तान के खिलाफ लगातार तीन टेस्ट मैच भी शामिल हैं.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.