टी-20 विश्वकप: कीर्तिमानों पर एक नजर

  • 13 सितंबर 2012

पहला टी-20 क्रिकेट विश्वकप वर्ष 2007 में हुआ, इस हिसाब से इसका इतिहास ज्यादा साल पुराना नहीं है, लेकिन इतने कम वर्षों में इतने कीर्तिमान बनें कि उन्हें याद रखना आसान नहीं हैं. ऐसे ही कुछ कीर्तिमानों पर एक नजर.

सबसे ज्यादा रन

Image caption टी-20 विश्वकप में सबसे ज्यादा 615 रन श्रीलंका के महेला जयवर्धने ने बनाए हैं

सबसे ज्यादा 260 रन श्रीलंका ने कीनिया के विरुद्ध वर्ष 2007 में जोहानसबर्ग में बनाए थे. इस मामले में भारतीय टीम दूसरे स्थान पर है जिसने इसी वर्ष डरबन में इंग्लैंड के खिलाफ 218 रन बनाए थे.

सबसे कम रन बनाने का कीर्तिमान आयरलैंड के नाम है जो वेस्टइंडीज के खिलाफ वर्ष 2010 में केवल 68 रन बना सकी थी. इस मामले में कीनिया की टीम दूसरे स्थान पर है जिसने न्यूज़ीलैंड के खिलाफ वर्ष 2007 में 73 रन बनाए थे.

व्यक्तिगत स्कोर

टी-20 विश्वकप के इतिहास में सबसे ज्यादा 615 रन श्रीलंका के महेला जयवर्धने ने बनाए हैं. इंग्लैंड के पीटरसन 580 रनों के साथ इस मामले में दूसरे स्थान पर हैं.

एक मैच में सबसे ज्यादा रन बनाने का कीर्तिमान वेस्टइंडीज के क्रिस गेल के नाम है. उन्होंने वर्ष 2007 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 117 रन बनाए थे.

भारत के सुरेश रैना इस मामले में दूसरे स्थान पर हैं जिन्होंने वर्ष 2010 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 101 रन की पारी खेली थी.

स्ट्राइक रेट

Image caption सुरेश रैना ने वर्ष 2010 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 101 रन की पारी खेली थी

स्ट्राइक रेट के मामले में वेस्टइंडीज के क्रिस गेल अव्वल हैं जिन्होंने 11 मैचों में 442 रन बनाए हैं.

भारत के युवराज सिंह 16 मैचों में 375 रन बनाकर दूसरे स्थान पर हैं.

डक कीर्तिमान

डक यानी बिना खाते खोले, सबसे ज्यादा चार बार आउट होने वाले खिलाड़ी श्रीलंका के महेला जयवर्धने हैं.

दूसरे स्थान पर वेस्टइंडीज के बल्लेबाज़ फ्लेचर हैं जो आठ मैचों में तीन बार शून्य पर आउट हुए.

सबसे ज्यादा छक्के

टी-20 विश्वकप के अब तक के इतिहास में सबसे ज्यादा कुल 27 छक्के वेस्टइंडीज के क्रिस गेल ने जड़े हैं. 24 छक्कों के साथ भारत के युवराज सिंह दूसरे स्थान पर हैं.

एक मैच में सबसे ज्यादा छक्के मारने का रिकॉर्ड भी क्रिस गेल के नाम है. उन्होंने वर्ष 2007 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ एक मैच में 10 जोरदार छक्के लगाए थे.

Image caption क्रिस गेल ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ एक मैच में 10 छक्के जड़े

इंग्लैंड के खिलाफ इसी वर्ष एक मैच में सात छक्कों के साथ युवराज सिंह यहां भी गेल के पीछे हैं. चौकों और छक्कों की मदद से एक पारी में सबसे ज्यादा रन वेस्टइंडीज के क्रिस गेल ने ही बनाए हैं. उन्होंने वर्ष 2007 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 57 गेंदों में 117 रन बनाए थे. इनमें से 88 रन सात चौकों और 10 छक्कों की मदद से बने थे.

किसी एक पारी में सबसे कम गेंदों पर सबसे ज्यादा रन बनाने की कीर्तिमान वेस्टइंडीज के स्मिथ के नाम है जिन्होंने वर्ष 2007 में बांग्लादेश के खिलाफ केवल सात गेंदों में 29 रन बनाए थे.

भारत के युवराज सिंह एक बार फिर यहां दूसरे स्थान पर हैं. उन्होंने साल 2007 में ही इंग्लैंड के खिलाफ 16 गेंदों पर ताबड़तोड़ 58 रन बनाए थे.

विकेट चटकाने वाले उस्ताद

टी-20 विश्वकप के इतिहास में सबसे ज्यादा 27 विकेट पाकिस्तान के शाहिद आफरीदी ने चटकाए हैं. उनके हमवतन उमर गुल 26 विकेट के साथ दूसरे स्थान पर हैं.

Image caption पाकिस्तान के शाहिद आफरीदी ने टी-20 विश्वकप मुकाबलों में कुल 27 विकेट चटकाए हैं

किसी एक मैच में सबसे ज्यादा विकेट लेने का कीर्तिमान भी पाकिस्तान के उमर गुल के ही नाम है. उन्होंने वर्ष 2009 में न्यूजीलैंड के पांच खिलाड़ियों को तीन ओवर में ही पैवेलियन लौटा दिया था.

कप्तानी का कीर्तिमान

कप्तान के तौर पर सबसे ज्यादा मैच खेलने वाले खिलाड़ी इंग्लैंड के पॉल कॉलिंगवुड हैं.

उनकी कप्तानी में इंग्लैंड ने अब तक कुल 17 मैच खेले हैं जिनमें से आठ जीते और आठ हारे हैं.

बड़ी साझेदारी

पहला विकेट गिरने के बाद सबसे बड़ी साझेदारी का कीर्तिमान वेस्टइंडीज के गेल और स्मिथ के नाम है जिन्होंने साल 2007 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 145 रनों की पारी खेली थी.

किसी एक सीरीज़ में सबसे ज्यादा कैच पकड़ने का कीर्तिमान ऑस्ट्रेलिया के माइक हसी के नाम है. उन्होंने वेस्टइंडीज में हुए टी-20 विश्वकप के दौरान सात मैचों में आठ कैच लपके.

टी-20 विश्वकप के इतिहास में सबसे ज्यादा कैच दक्षिण अफ्रीका के एबी डिविलियर्स के नाम है. उन्होंने 16 मैचों में कुल 16 कैच पकड़े हैं.

खिलाड़ियों के बाद अम्पायर की बात करना भी प्रासांगिक होगा. इनमें सर्वोपरि साइमन टॉफल हैं जिन्होंने सबसे ज्यादा 21 मैचों में अम्पायर की भूमिका निभाई है.

संबंधित समाचार