भज्जी की बदौलत भारत टी-20 के सुपर आठ में

 सोमवार, 24 सितंबर, 2012 को 09:15 IST तक के समाचार

रविवार को श्रीलंका में खेले गए क्लिक करें टी-20 विश्वकप में ग्रुप ए के अंतिम मैच में भारत ने इंग्लैंड को 90 रनों से करारी शिकस्त दी.

क्लिक करें स्कोर कार्ड के लिए क्लिक करें

इस शानदार जीत के बाद ही भारत टी-20 के सुपर आठ में शामिल हो गया है.

इंग्लैंड के कप्तान स्टुअर्ट ब्रॉड ने टॉस जीत कर भारत से पहले बल्लेबाज़ी करने को कहा था.

भारतीय टीम ने इंग्लैंड के सामने जीत के लिए 171 रनों का लक्ष्य रखा था.

लेकिन मौजूदा विश्व चैम्पियन टीम जवाब में सिर्फ़ 80 रन ही बना सकी और अपने बीस ओवर ख़त्म होने के पहले ही ऑल आउट हो गई.

इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज़ कीस्वेटर एक छोर पर काफी देर तक डटे रहे लेकिन दूसरे छोर पर इंग्लैंड के बल्लेबाज़ पहले पठान की तेज़ गेंदबाज़ी और फिर हरभजन सिंह और पीयूष चावला की फिरकी का शिकार होते रहे.

हेल्स शून्य पर और ल्यूक राइट छह के स्कोर पर वापस लौटे, जबकि मॉर्गन दो और बेयरस्टो को एक रन के निजी स्कोर पर चावला ने बोल्ड आउट किया.

बटलर, ब्रेस्नेन और स्वान भी 10 रन का निजी स्कोर पार करने में नाकाम रहे और आखिरकार इंग्लैंड की पारी 80 रनों पर सिमट गई.

इंग्लैंड की तरफ से सबसे ज़्यादा 35 रन कीस्वेटर ने बनाए. भारतीय गेंदबाजी पर नज़र डाली जाए तो हरभजन सिंह चार विकेट लेकर सबसे सफल गेंदबाज़ साबित हुए.

पियूष चावला और इरफ़ान पठान ने दो-दो विकेट लिए. हरभजन सिंह को मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला.

हरभजन ने इस पुरस्कार को अपनी मां और अपने दोस्तों को समर्पित किया.

उनका कहना था, ''ये एक कठिन साल था.टीम में शामिल खिलाड़ी बहुत अच्छा खेल रहे थे और मेरे लिए वापसी करना कठिन था.''

भारतीय बल्लेबाज़ी

हरभजन सिंह

हरभजन सिंह: मैन ऑफ द मैच

इससे पहले इंग्लैंड के कप्तान ने भारत से टॉस जीतने पर उसे बल्लेबाज़ी के लिए उतारा.

सहवाग की गैर मौजूदगी में गंभीर का साथ देने उतरे इरफ़ान पठान. पठान पहले भी कई बार भारतीय पारी की शुरुआत कर चुके हैं.

शनिवार को भारतीय टीम के अभ्यास के दौरान भी पठान ने नेट्स में जमकर बल्लेबाज़ी की थी.

लेकिन पठान इंग्लैंड के गेंदबाजों के खिलाफ सहज नहीं रह सके और मात्र आठ रनों पर ही बोल्ड आउट हो गए.

दूसरे छोर पर गंभीर संभलकर बल्लेबाज़ी कर रहे थे और विराट कोहली उनका साथ देने पहुंचे.

कोहली इन दिनों बेहतरीन फॉर्म में चल रहे हैं और उन्होंने एक बार फिर उसी लय में खेलने शुरू किया और तेज़ी से विकेट के दोनों ओर रन भी बनाए.

अपनी पारी में छह चौकों की मदद से कोहली ने 32 गेंद में ही 40 रन बनाए लेकिन एक बड़ा शॉट लगाने की फिराक में आउट हो गए.

उनके आउट होने के बाद क्रीज़ पर आए रोहित शर्मा ने एक बार फिर दर्शाया कि उनकी बल्लेबाज़ी में कितना दम है.

थोड़ी धीमी शुरुआत करने वाले शर्मा ने अपनी पारी में लगातार बड़े शॉट्स लगे और उन्हें गंभीर का पूरा समर्थन मिला.

हालांकि भारतीय पारी थोड़ी धीमी ज़रूर पड़ी क्योंकि बीच के कुछ ओवर में इंग्लैंड के गेंदबाजों ने बेहद सधी हुई गेंदबाजी की.

इसी समय गंभीर ने भी अपना विकेट गँवा दिया और उनकी पारी 45 रनों के स्कोर पर सिमटी.

आखिरकार भारत ने अपने 20 ओवर में चार विकेट के नुकसान पर 170 रन बनाए.

भारत और इंग्लैंड की टीमें अब सुपर आठ में अपने मुकाबले खेलेंगी.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.