गेल की आंधी में उड़ी ऑस्ट्रेलिया, वेस्ट इंडीज़ फ़ाइनल में

  • 5 अक्तूबर 2012
वेस्ट इंडीज क्रिकेट
Image caption वेस्ट इंडीज की टीम शुरुआत से ही मैच पर भारी रही

क्रिस गेल की मैच जिताने वाली पारी की बदौलत वेस्ट इंडीज़ ने ऑस्ट्रेलिया को 74 रनों से हराकर टी20 विश्वकप के फ़ाइनल में जगह बना ली है और अब उसका मुकाबला श्रीलंका से होगा.

शुक्रवार को कोलंबो के प्रेमदासा स्टेडियम में खेले गए दूसरे सेमीफ़ाइनल में वेस्ट इंडीज़ ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाज़ी करने का फैसला लिया और ऑस्ट्रेलिया के समक्ष 206 रनों का विशालकाय लक्ष्य रखा.

इसमें अहम योगदान क्रिस गेल का रहा जिन्होंने नाबाद रहते हुए तेज़ 75 रन बनाए और इसके लिए मैन ऑफ द मैच चुने गए.

जवाब में ऑस्ट्रेलिया की टीम 131 रन पर ही आउट हो गई .

टीम शुरू से ही दबाव में रही और एक-एक करके उसके विकट गिरते गए.

बेहतरीन फॉर्म में चल रहे वॉट्सन और वार्नर को बद्री ने जल्दी ही पवेलियन का रास्ता दिखा दिया. उधर रामपॉल ने क्रेग व्हाइट और डेविड हसी को पांच और शून्य के स्कोर पर ही चलता किया.

माइक हसी भी केवल 12 गेंदों का सामना कर सके जिसमे उन्होंने 18 रन बनाए. इस समय तक ऑस्ट्रेलिया की हालत खस्ता थी और मात्र 43 रन पर उसके छह विकट गिर चुके थे.

हालांकि कप्तान बेली क्रीज़ पर जमे रहे और अर्धशतक भी लगाया, लेकिन दूसरे छोर पर विकट गिरते रहे. बेली ने 63 रनों की पारी खेली. लेकिन ऑस्ट्रेलिया की पारी 131 रनों पर ही सिमट गई और वेस्ट इंडीज़ को एक बड़ी जीत मिली.

धुआंधार बल्लेबाज़ी

इससे पहले जब वेस्ट इंडीज़ के कप्तान दैरान सैमी ने टॉस जीता होगा तो उन्होंने गेल नामक आंधी पर भरोसा करते हुए बल्लेबाज़ी चुनी रही होगी.

हुआ भी कुछ ऐसा ही. क्रिस गेल और चार्ल्स ने वेस्ट इंडीज़ की पारी की शुरुआत समझ बूझ से की. हालांकि चार्ल्स 10 रन ही बना सके लेकिन उनकी जगह पर खेलने आए सैमुएल्स ने मात्र 20 गेंदों में 26 बनाकर गेल का साथ बखूबी निभाया.

दूसरे छोर पर क्रिस गेल आक्रामक होते जा रहे थे और ब्रावो ने भी विकट पर आते ही चौकों की बरसात सी कर दी. 37 रन के निजी स्कोर पर जब ब्रावो का विकट गिरा तब तक 15 ओवर पूरे हो चुके थे और वेस्ट इंडीज़ का स्कोर 150 था. ऑस्ट्रेलिया के लिए दुर्भाग्य ये भी रहा कि जो भी बल्लेबाज़ क्रीज़ पर आता रहा उसने गेल की तरह ही धुआंधार बल्लेबाज़ी की.

पोलार्ड ने भी सिर्फ़ 15 गेंदों में तीन छक्के और तीन चौकों की मदद से 38 रन बना डाले. आखिरकार वेस्ट इंडीज़ ने अपने निर्धारित 20 ओवरों में 205 का विशालकाय स्कोर खड़ा कर लिया जिससे ऑस्ट्रेलिया पर दबाव भी दूना हो गया.

संबंधित समाचार