वीरू के साथ मेरी जोड़ी अब भी हिट: गंभीर

  • 25 अक्तूबर 2012
गंभीर और वीरेंद्र सहवाग
Image caption बीते दो सालों में कुछ खास नहीं कर पाए हैं वीरू और गौती.

भारतीय बल्लेबाज गौतम गंभीर ने कहा है कि वीरेंद्र सहवाग और वो अब भी देश की बेहतरीन सलामी जोड़ी है.

इस तरह गंभीर ने उन आलोचकों को जवाब दिया है जो वीरेंद्र सहवाग के साथ उनकी जोड़ी पर सवाल उठा रहे हैं. गंभीर के मुताबिक वीरू और उनकी जोड़ी का औसत 53 रहा है, जो देश में सबसे ज्यादा है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार गौतम गंभीर ने कहा, “ज्यादा जोड़ियां नहीं हैं जो इतने लंबे समय तक खेली हैं और जिनका औसत प्रति पारी 53 रहा हो. 53 का औसत जबरदस्त है और अगर 53 का औसत पर्याप्त नहीं है, तो फिर मुझे नहीं पता कि कितना पर्याप्त होगा.”

गंभीर ने कहा, “सलामी जोड़ी के तौर पर अब भी हमारा औसत 53 है. मुझे लगता है कि क्रिकेट की दुनिया में ये बेहतरीन औसतों में से एक है.”

सहवाग ने पिछले दो साल में सिर्फ एक शतक लगाया है और 37.26 के औसत से रन बनाए हैं जो टेस्ट मैच में उनके औसत 50.64 से कम है.

इसी अवधि में गंभीर ने कोई शतक नहीं लगाया है और 30.31 के औसत से रन बनाए हैं जबकि टेस्ट क्रिकेट में उनका औसत 44.35 रहा है.

गंभीर की खरी-खरी

जब गंभीर से पूछा गया कि क्या टेस्ट मैचों में पिछले दो साल से एक भी शतक न जड़ पाने के कारण उन पर दबाव है तो उन्होंने अपने चिर परिचित आक्रामक अंदाज में जवाब दिया, “बात हर बार शतक लगाने की नहीं होती है, बात होती है सलामी जोड़ी के तौर पर योगदान देने की. ये सिर्फ मेरी बात नहीं है, ऐसे बहुत से लोग हैं जिन्होंने शतक नहीं बनाया है.”

गंभीर का कहना है कि वो टेस्ट टीम में अपनी जगह को लेकर बिल्कुल असुरक्षित महसूस नहीं करते हैं.

उन्होंने कहा, “कभी नहीं. मैं टीम में अपनी जगह को लेकर बिल्कुल असुरक्षित महसूस नहीं करता हूं. पता नहीं कि ये बातें कहां से आ रही हैं. आखिरकार जब आप पारी की शुरुआत करते हो, तो आप योगदान देना चाहते हैं और आप टीम को अच्छी शुरुआत देना चाहते हैं. अच्छी शुरुआत देना आपका पहला काम होता है.”

चैंपियंस लीग ट्वेंटी-20 टूर्नामेंट में आईपीएल चैंपियन कोलकाता नाइट राइडर्स के निराशाजनक प्रदर्शन पर केकेआर के कप्तान गंभीर ने कहा, “ऐसी चीजें होती हैं. हम आईपीएल चैंपियन हैं. आप जीत के इरादे से टूर्नामेंट खेलने जाते हैं लेकिन सभी टूर्नामेंट नहीं जीत पाते हैं.”

गंभीर इन बातों से सहमत नहीं हैं कि इंग्लैंड के खिलाफ होने वाली आगामी सीरीज भारत के लिए 'बदले' की सीरीज होगी.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार