साइना फ्रेंच ओपन सुपर सीरीज़ के फाइनल में

 रविवार, 28 अक्तूबर, 2012 को 08:51 IST तक के समाचार
साइना नेहवाल

साइना नेहवाल इस साल अपने तीसरे सुपर सीरीज खिताब से बस एक कदम दूर हैं.

लंदन ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने वाली भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल फ्रेंच ओपन सुपर सीरीज़ के फाइनल में पहुंच गई हैं.

पेरिस में शनिवार को हुए मुकाबले में उन्होंने जर्मनी की जूलियन शेंक को 21-19, 21-18 से हरा दिया.

फ्रेंच ओपन सुपर सीरीज़ के फाइनल में साइना की भिड़ंत रविवार को जापान की मिनात्सु मितानी से होगी.

जूलियन शेंक वही खिलाड़ी हैं जिन्हें हराकर साइना ने दो हफ्ते पहले ही डेनमार्क ओपन का खिताब अपने नाम किया था.

दोनों के बीच 36 मिनट तक चले मुक़ाबले के दौरान दर्शकों को बेहतरीन बैडमिंटन देखने का मौका मिला.

साइना ने अपने चुस्त खेल से एक बार फिर साबित कर दिया कि क्यों उन्हें बैडमिंटन की दुनिया में सर्वोत्तम खिलाड़ियों में से एक माना जाता है.

शनिवार को हुए मुकाबले में साइना ने कहीं कोई चूक नहीं की. एक समय जूलियन ने साइना पर 15-10 की बढ़त बना ली थी, लेकिन वो साइना की ओर से आती शटल की गति भांपने में नाकाम रहीं.

नतीजा ये हुआ कि अच्छे खेल का प्रदर्शन करने के बावजूद जूलियन, साइना को 16-16 की बराबरी पर आने से नहीं रोक सकीं.

लेकिन फिर संभलते हुए जूलियन ने गेम को 19-16 पर पहुंचा दिया जहां साइना ने एक बार फिर अपनी चुस्ती-फुर्ती और अनुभव का इस्तेमाल करते हुए दनादन प्वाइंट्स बनाये.

लंदन ओलंपिक के बाद साइना नेहवाल ने आराम करना बेहतर समझा था ताकि वो तरोताज़ा महसूस कर सकें. उन्होंने डेनमार्क ओपन के साथ कोर्ट पर वापसी की थी. डेनमार्क ओपन से पहले उन्होंने राष्ट्रीय बैडमिंटन चैंपियनशिप सहित तीन टूर्नामेंट में भाग नहीं लिया था.

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.