भारतीय ‘दामाद’ के भरोसे पाकिस्तानी टीम

  • 27 दिसंबर 2012
Image caption पाकिस्तान की उम्मीदें शोएब मलिक पर टिकी हैं

भारत-पाकिस्तान टी-20 सिरीज़ के पहले मैच में पाकिस्तान के ‘खुफिया’ हथियार मोहम्मद इरफान पर भारत के अनजाने गेंदबाज़ भुवनेश्वर कुमार भारी पड़े.

लेकिन भारत में शादी रचाने वाले बल्लेबाज़ शोएब मलिक ने हार नहीं मानी और अपनी टीम को जीत दिलाई.

लंबे समय के बाद वापसी कर रहे शोएब मलिक से अहमदाबाद में भी मेहमान टीम को बड़ी उम्मीद है.

बंगलौर में खेले गए पहले टी-20 मैच से पहले पाकिस्तान के करीब सात फुट लंबे गेंदबाज मोहमम्द इरफान को लेकर भारतीय टीम और फैंस में भी पशोपेश की स्थिति बनी हुई थी.

मोहम्मद इरफान के बारे में कम ही जानकारी थी और पाकिस्तान के कप्तान मोहम्मद हफीज उन्हें एक खुफिया हथियार के रूप में टीम में आज़माना चाहते थे.

इरफान को पहला ओवर दिया गया, उन्होंने अपने चार ओवरों में एक विकेट भी लिया और अच्छी उछाल की मदद से भारतीय ओपनर गौतम गंभीर और अजिंक्या रहाणे को तंग भी किया.

लेकिन पाकिस्तान के इस रहस्यमयी हथियार पर भारत के कम जाने-पहचाने गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार भारी पड़ गए.

अपना पहला मैच खेल रहे कुमार ने भारत के लिए गेंदबाजी शुरु की और अपनी सटीक लाइन और लेंथ से पाकिस्तानी बल्लेबाज़ो को खूब परेशान किया.

भुवनेश्वर कुमार ने विकेट के दोनों तरफ गेंद को स्विंग करवाया और तीन अहम विकेट लिए. उन्होंने 4 ओवर में सिर्फ 9 रन खर्च कर तीन विकेट लिए.

शोएब मलिक की वापसी

यहां से पाकिस्तान के लिए मैच जीतना मुश्किल लग रहा था, लेकिव कप्तान हफीजड के साथ जो एक सीनियर खिलाड़ी पर जम गए- वो थे शोएब मलिक.

साल 2010 में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने शोएब मलिक पर अनुशासन तोड़ने के आरोप में एक साल का बैन लगा दिया था.

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान मलिक टीम से अंदर बाहर होते रहे हैं.

पिछले कुछ समय से उनकी चर्चा खेल के मैदान से नहीं बल्कि भारत की टेनिस स्टार सानिया मिर्ज़ा से शादी की वज़ह से ज्यादा हो रही थी.

मलिक और सानिया मिर्ज़ा के साथ एक टीवी रिएलिटी डांस शो में भी नज़र आएंगे.

लेकिन उससे पहले शोएब ने अपनी क्रिकेट पर जमा हो रही धूल को बखूबी झाड़ा.

2010 में ही सानिया से शादी के बाद मलिक भारत में पहला मैच खेल रहे थे और उन्होंने नाबाद 57 रनों की पारी से पाकिस्तान को जीत दिलाई.

एक पाकिस्तानी पत्रकार ने कहा, मलिक को अगर टी 20 में ज्यादा ओवर खेलने दिए जाए तो वो मैच पाकिस्तान को मैच जिता सकते हैं. बैंगलौर में दामाद बाबू ने ये खूब जता दिया.

वहीं पाकिस्तान के कप्तान मोहमम्द हफीज़ भी मलिक के तारीफ के पुल बांधने से नहीं थक रहे.

हफीज कहते हैं, शोएब मलिक ने मैच में मेरा अच्छा साथ दिया और आखिर तक डटे रहे. हम उनके अनुभव का पूरा फायदा इस सिरीज़ में उठाना चाहेंगे.

भारत और पाकिस्तान की टीमें दूसरे टी-20 मैच के लिए अहमदाबाद पंहुच चुकी है जहां मैच शुक्रवार को खेला जाएगा.

संबंधित समाचार