सचिन अभी कुछ और वनडे खेल सकते थे: गावस्कर

 मंगलवार, 8 जनवरी, 2013 को 09:28 IST तक के समाचार

गावस्कर मानते हैं कि ख़राब फॉर्म से जूझ रहे ख़िलाडियों को टीम से हटाना सही नही है.

दुनिया के महान सलामी बल्लेबाज़ों में से एक लिटिल मास्टर सुनील गावस्कर का कहना है कि वह वनडे से सचिन तेंदुलकर के संन्यास से निराश हैं और तेंदुलकर अभी खेल सकते थे.

बीबीसी हिंदी से विशेष बातचीत में गावस्कर ने कहा, "वन-डे और टेस्ट मैच में इतने सारे रन सचिन ने बनाए हैं, वह अभी खेल सकते थे. उनके इस तरह संन्यास लेने पर मुझे थोड़ी निराशा हुई है."

इतना ही नहीं, गावस्कर को ये भी लगता था कि तेंदुलकर पाकिस्तान के विरुद्ध खेलकर शतक लगाने की कोशिश करते.

उन्होंने कहा, "मुझे लगता था कि वह पाकिस्तान के ख़िलाफ खेलकर वन-डे में अपनी पचासवी सेंचुरी पूरी करने की कोशिश करेंगे, और इसके बाद जो सिरीज़ ऑस्ट्रेलिया से होगी उसमें अपनी फॉर्म वापस लाने की भी कोशिश करेंगे."

युवा खिलाड़ियों से खुश

वैसे युवा खिलाड़ियों को मौक़ा देने के सवाल पर गावस्कर का कहना है, "तेज़ गेंदबाज शमी अहमद और भुवनेश्वर कुमार ने घरेलू स्तर पर शानदार प्रदर्शन किया, जिसका इनाम उन्हें टीम में जगह मिलने के रूप में मिला और अब समय आ चुका है कि इसी तरह युवा खिलाडियों को अवसर दिया जाए. 2015 में जो विश्व कप होगा, उसके लिए अभी से पूल बनाने की ज़रूरत है."

सचिन तेंदुलकर ने रणजी मैच में रविवार को शतक लगाया. फाइल तस्वीर

अनुभवी खिलाडियों को लेकर गावस्कर का मानना है कि ख़राब फ़ॉर्म से जूझ रहे खिलाड़ियों को पूरी तरह से टीम से हटाना सही नहीं है. उन्हें दो-चार मैचों के लिए हटाया जा सकता है.

धोनी पर सवाल

गावस्कर का ये भी कहना है कि ख़राब फ़ॉर्म से जूझ रहे खिलाड़ी इस बीच घरेलू क्रिकेट खेलें और अंतराष्ट्रीय क्रिकेट का दबाव नहीं होने से शायद वैसे खिलाड़ी अपनी कमियों को आसानी से महसूस करके उसे दूर कर सकेंगे. उनका ये भी मानना है कि घरेलू क्रिकेट को बढ़ावा देने से भारत को शमी अहमद और भुवनेश्वर जैसे कुछ और अच्छे खिलाडी मिल सकेंगे.

धोनी की कप्तानी को लेकर उठ रहे सवालों को लेकर गावस्कर ने कहा, "यह निर्णय तो उन्हें चयनकर्ताओं के साथ मिलकर लेना होगा, इससे उन्हें भी अपने भविष्य को लेकर दिशा मिलेगी. यह निर्णय आसान नहीं है, इसका अंदाज़ा धोनी को भी है. दूसरी तरफ जो खिलाड़ी कप्तानी में धोनी की जगह ले सकते थे, उनकी अपनी फ़ॉर्म ठीक नहीं है जबकि धोनी इस समय फ़ॉर्म में हैं तो उन्हें ही अभी तीनों फॉर्मेट में कप्तान रहना चाहिए."

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.