आईपीएल में फिर पाक खिलाड़ियों की अनदेखी

michael clarke
Image caption क्लार्क आईपीएल में खेल चुके हैं लेकिन वह उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे

बेशुमार दौलत से भरपूर इंडियन प्रीमियर लीग के छठे संस्करण के लिए रविवार को चेन्नई में 101 खिलाड़ियों की नीलामी होगी.

लेकिन एक बार फिर इस सूची में पाकिस्तान के खिलाड़ियों के नाम नहीं हैं. वर्ष 2008 में मुंबई में हुए हमलों के बाद से ही आईपीएल में पाकिस्तानी खिलाड़ियों की अनदेखी हो रही है.

इस नीलामी में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग और उनके उत्तराधिकारी माइकल क्लार्क का आधार मूल्य सबसे अधिक चार लाख डॉलर यानी लगभग 2.1 करोड़ रुपए रखा गया है.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके पोटिंग और क्लार्क सहित चार खिलाड़ियों को नीलामी के लिए विशिष्ट सूची में रखा गया है. इस क्लब में शामिल दो अन्य खिलाड़ी दक्षिण अफ्रीका के ऑलराउंडर योहान बोटा और टीम इंडिया से बाहर चल रहे तेज़ गेंदबाज़ आरपी सिंह हैं.

बोटा का आधार मूल्य तीन लाख डॉलर और आरपी सिंह का एक लाख डॉलर रखा गया है. आरपी को पिछली बार मुंबई इंडियंस ने छह लाख डॉलर में खरीदा था लेकिन वो 11 मैचों में दस विकेट ही ले पाए थे और टीम ने उन्हें रिलीज़ कर दिया था.

आईपीएल में नहीं चला है जादू

Image caption अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह चुके पोंटिंग भी आईपीएल में फ्लॉप रहे हैं

अंतरराष्ट्रीय ट्वेन्टी-20 को अलविदा कह चुके क्लार्क आईपीएल में पुणे वॉरियर्स की तरफ से खेल चुके हैं जबकि 38 साल के पोंटिंग पहले संस्करण में कोलकाता नाइट राइडर्स की तरफ से खेले थे.

लेकिन दोनों ही अपनी प्रतिष्ठा के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाए थे.

रविवार को होने वाली खिलाड़ियों में भारत के सात, इंग्लैंड के दो और आयरलैंड के स्टार ऑलराउंडर केविन ओ ब्रायन शामिल हैं. वेस्टइंडीज के टी-20 विश्व विजेता टीम के कप्तान डेरेन सैमी पहली बार नीलामी सूची में शामिल हैं और उनका आधार मूल्य एक लाख डॉलर रखा गया है.

पिछले सत्र में नहीं बिक पाए इंग्लैंड के मैट प्रायर और रवि बोपारा का आधार मूल्य एक लाख डॉलर और दो लाख डॉलर रखा गया है.

संबंधित समाचार