सचिन ने की गावस्कर के एक और रिकॉर्ड की बराबरी

  • 8 फरवरी 2013
Image caption सचिन के नाम सबसे ज्यादा अंतरराष्ट्रीय शतक लागाने का रिकार्ड भी है.

सचिन तेंदुलकर का नाम आए और किसी रिकॉर्ड का जिक्र ना हो, ये कैसे हो सकता है.

भले ही सचिन ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया हो लेकिन शुक्रवार को उन्होंने एक और रिकॉर्ड की बराबरी कर ली.

ईरानी ट्राफी में सचिन तेंदुलकर ने शेष भारत के खिलाफ खेलते हुए प्रथम श्रेणी के मुकाबलों में सबसे ज्यादा शतक लगाने के रिकार्ड की बराबरी कर ली है.

सचिन तेंदुलकर ने सुनिल गावस्कर के 81 प्रथम श्रेणी के शतकों के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है.

रिकॉर्ड

सचिन तेदुंलकर के 81 प्रथम श्रेणी के शतकों में 30 घरेलू क्रिकेट के शतक शामिल हैं जबकि अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मुकाबलों में उन्होंने 51 शतक लगाए हैं. अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मैचों को प्रथम श्रेणी के मुकाबलों में शामिल किया जाता है.

शुक्रवार को वानखेडे स्टेडियम पर खेले गए मुकाबले में सचिन ने मुंबई की ओर से खेलते हुए नाबाद 140 रन बनाए.

मेज़बान मुंबई ने शेष भारत के 526 रनों के जवाब में 409 रन बना लिए हैं.

सुनिल गावस्कर के कुल 81 प्रथम श्रेणी शतकों में 34 अंतरराष्ट्रीय टेस्ट शतक हैं जो उन्होंनें 1971 से 1997 के बीच लगाए हैं.

सचिन तेंदुलकर ने शुक्रवार को ही प्रथम श्रेणी मुकाबलों में 25000 रन भी पूरे किए.

सचिन तेंदुलकर ने प्रथम श्रेणी का पहला शतक भी इसी मैदान पर गुजरात के खिलाफ़ खेलते हुए दिसंबर 1988 में लगाया था.

सचिन ने कुल 81 प्रथम श्रेणी के शतकों में से 51 टेस्ट शतक, 18 रणजी ट्राफी शतक, दो ईरानी ट्राफी शतक, तीन दिलीप ट्राफी, एक काउंटी क्रिकेट में और छह अन्य मुकाबलों में लगाए हैं.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार