क्रिकेट का अगला सुपर पावर भारत: ग्रेग चैपल

  • 28 फरवरी 2013
Image caption ग्रेग चैपल 2005 से 2007 तक भारतीय टीम के कोच थे

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कोच ग्रेग चैपल का मानना है कि भारतीय टीम क्रिकेट की अगली महाशक्ति बन सकती है.

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज़ औऱ कप्तान ग्रेग चैपल 2005 से 2007 तक भारतीय टीम के कोच थे.

तब कप्तान सौरभ गांगुली से उनका विवाद ड्रेसिंग रूम से बाहर आ गया था और दोनों ही क्रिकेटरों ने एक दूसरे की जमकर आलोचना की थी. चैपल के कोचिंग के दौरान भारतीय टीम लगातार विवादों में रही थी और टीम का प्रदर्शन भी औसत रहा था.

लेकिन ग्रेग चैपल मानते हैं कि आज की भारतीय क्रिकेट औसत बिल्कुल भी नहीं है.

एजेंसियों के मुताबिक बुधवार को कोलकाता में पटौदी लेक्चर में चैपल ने कहा, "मुझे लगता है कि भारतीय टीम का भविष्य बहुत मज़बूत है. मुझे ये सोचकर बेहद रोमांच होता है कि भारतीय क्रिकेट विश्व में एक लीडर की भूमिका निभा सकती है और आज जहां है वहां से बहुत आगे तक जा सकती है."

क्रिकेट की महाशक्ति

चैपल ने कहा, "भारत को क्रिकेट का अगला सुपरपावर होना चाहिए और उसे लंबे समय तक विश्व क्रिकेट पर हावी रहना चाहिए. उसके लिए बदलाव की ज़रूरत है जो अच्छी तैयारी के साथ और लंबे समय तक के लिए की जाए."

भारतीय टीम के भविष्य के बारे में चैपल ने कहा कि अगर भारतीय खिलाड़ी दुनिया की विभिन्न पिचों और वहां की घरेलू हालातों पर सफल रह सकते हैं तो उन्हें दुनिया की कोई भी टीम नहीं रोक सकती.

चैपल ने कहा कि भारतीय क्रिकेट के सामने सिर्फ विदेशी पिचों पर सफल रहने की चुनौती नहीं है बल्कि भारत में टेस्ट क्रिकेट को बढ़ावा देना भी एक अहम लक्ष्य है.

"टेस्ट क्रिकेट में ही आप ऐसे खिलाड़ी तैयार करते हैं जो दुनिया में हर जगह खेल सकते हैं. अगर भारतीय क्रिकेट ये बातें अपनाती है तो उनकी सफलता पर कोई रोक नहीं लगा सकता है. "

संबंधित समाचार