भारत के हाथों ऑस्ट्रेलिया चारों खाने चित

  • 24 मार्च 2013
ashwin
Image caption अश्विन ने शानदार गेंदबाज़ी करते हुए पाँच विकेट चटकाए.

दिल्ली के फ़िरोज़शाह कोटला मैदान में खेले जा रहे चौथे और आख़िरी टेस्ट में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को छह विकेट से हरा दिया है. इस तरह भारत ने ये सिरीज 4-0 से जीत ली.

सिरीज में 29 विकेट लेने के लिए आर अश्विन को मैन ऑफ़ द सिरीज घोषित किया गया जबकि रवींद्र जडेजा मैन ऑफ द मैच बने.

मैच के स्कोरकार्ड के लिए क्लिक करें

इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने अपनी दूसरी पारी 46.3 ओवरों में मात्र 164 रनों पर ढेर हो गई. लेकिन भारत ने 155 रनों का लक्ष्य मात्र चार विकेट खोकर हासिल कर लिया.

भारत की ओर से मुरली विजय ने 11 रन, तेंदुलकर ने एक रन, विराट कोहली ने 41 रन और रहाणे ने एक रन बनाए. लेकिन पुजारा और धोनी ने भारत को जीत के द्वार तक पहुँचाया.

ऑस्ट्रेलिया की ओर से सिडल ने सबसे अधिक 50 रन बनाए. ऑस्ट्रेलिया के छह बल्लेबाज़ 10 से कम रन बनाकर आउट हुए.

भारत की ओर से जडेजा ने पांच विकेट लिए जबकि प्रज्ञान ओझा को दो, आश्विन को दो और ईशान को एक विकेट मिले.

पुजारा की तारीफ

मैच के बाद बोलते हुए ऑस्ट्रेलिया के कप्तान शेन वॉटसन ने माना कि उनकी टीम ने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया. उन्होंने पुजारा की तारीफ की और कहा कि इस सिरीज से उनकी टीम को सीखने का मौका मिला है.

इससे पहले तीसरे दिन सुबह भारत की पूरी टीम 272 रन बनाकर आउट हो गई. इस तरह मेज़मान भारत को मेहमान ऑस्ट्रेलियाई टीम पर दस रनों की बढ़त हासिल हो गई है. ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में 262 रन बनाए थे.

खेल के तीसरे दिन भारत ने 266 रन पर आठ विकेट से आगे खेलना शुरू किया लेकिन उसके आख़िरी दोनों बल्लेबाज़ जल्द ही पैवेलियन लौट गए.

ईशान शर्मा नौवें विकेट के रूप में आउट हुए तो ठीक उसके बाद प्रज्ञान ओझा दसवें और आख़िरी विकेट के रूप में पैवेलियन लौटे, दोनों ही बल्लेबाज़ अपना खाता भी नहीं खोल सके. भुव्नेश्वर कुमार 14 रन बनाकर नाबाद रहे.

ऑस्ट्रेलिया की तरफ़ से सबसे कामयाब गेंदबाज़ रहे लॉयन जिन्होंने 23.2 ओवरों में 94 रन देकर सात विकेट लिए. पैटिसन, सिडल और मैक्सेवेल को एक-एक विकेट मिले जबकि जॉनसन कोई भी विकेट लेने में सफल नहीं हो सके.

इससे पहले खेल के दूसरे दिन ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी में 262 रन में जवाब में भारत ने ठोस शुरुआत की. चेतेश्वर पुजारा और मुरली विजय ने पहले विकेट के लिए 108 रन जोड़े.

पुजारा ने 74 गेंदों में पाँच चौकों के साथ अपना अर्द्धशतक पूरा किया लेकिन इसके बाद वो अपनी पारी को ज़्यादा लंबी नहीं खींच पाए. वो नैथन लॉयन की गेंद पर बोल्ड हुए.

विराट कोहली मात्र एक रन बनाकर लॉयन की गेंद पर पगबाधा क़रार दिए गए. इस तरह भारत ने छह रन के अंतराल में दो विकेट गंवा दिए.

भारतीय मध्यम क्रम के बल्लेबाजों ने अपने समर्थकों को निराश किया.

रहाणे सात रन, कप्तान धोनी 24, रवींद्र जडेजा 43 और अश्विन मात्र 12 बनाकर वापस पैवेलियन लौट गए.

अश्विन के पंजे में कंगारू

इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने कल के स्कोर आठ विकेट पर 231 से आगे खेलना शुरु किया और उसकी पूरी पारी 262 रन पर सिमट गई.

पीटर सिडल ने 51 और जेम्स पैटिनसन ने 30 रन बनाए.

भारत की तरफ से ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने 34 ओवर में 57 रन देकर पाँच विकेट लिए.

इशांत शर्मा ने 35 रन देकर दो और रवीन्द्र जड़ेजा ने 40 रन देकर दो विकेट लिए. एक विकेट प्रज्ञान ओझा के खाते में गया.

संबंधित समाचार