दिल्ली की दूसरी जीत, चेन्नई भी चमकी

दिल्ली डेयरडेविल्स
Image caption अंक तालिका में एक पायदान चढ़े डेयरडेविल्स

रविवार को आईपीएल में जहां पुणे वॉरियर्स पर दिल्ली की टीम भारी पड़ी, वहीं चेन्नई ने अपने मैदान पर कोलकाता नाइट राइडर्स को 14 रन से मात दी.

दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ मुकाबले में पुणे वॉरियर्स को जीत के लिए 165 रनों की जरूरत थी, लेकिन ऐरोन फिंच (37) और रॉबिन उथप्पा (37) की सलामी जोड़ी के बीच 76 रन की साझेदारी के बावजूद टीम चार विकेट खोकर 149 रन के स्कोर तक ही पहुंच पाई.

रायपुर के नवनिर्मित शहीद वीर नारायण सिंह इंटरनेशनल स्टेडियम पर खेले गए इस मुकाबले में दिल्ली को अपनी दूसरी जीत नसीब हुई.

अपने नौ मैचों से दो जीतने के बाद अब दिल्ली की टीम अंक तालिका में सबसे निचले पायदान से उठकर आठवें स्थान पर पहुंच गई है.

पुणे की टीम का प्रदर्शन बेहद खराब रहा है और अब नौ टीमों की अंक तालिका में वही सबसे नीचे है. रविवार को उसे सातवीं हार का सामना करना पड़ा.

दिल्ली के उमेश यादव ने 18वें ओवर में शानदार कामयाबी हासिल की जब उन्होंने सिर्फ दो रन देकर युवराज सिंह (31) और ल्यूक राइट (19) को पैवेलियन का रास्ता दिखाया. इसी ओवर ने मैच का रुख बदल दिया.

बिसला का संघर्ष

इससे पहले ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज माइकल हसी ने शानदार 95 रन की पारी और एक रन आउट के जरिए अपनी टीम चेन्नई सुपर किंग्स को कोलकाता नाइट राइडर्स पर 14 रन से जीत दिला दी.

बाएं हाथ के बल्लेबाज हसी जबरदस्त लय में दिखे और 59 गेंदों पर उन्होंने 95 रन ठोंके. उनकी पारी में 13 चौके भी शामिल रहे.

हसी ने पहले ऋद्धिमान साहा (39) के साथ मिल कर 10 ओवरों में 103 रन की साझेदारी निभाई और फिर सुरेश रैना के साथ मिल कर दूसरे विकेट के लिए साझेदारी के तहत स्कोर में 55 रन जोड़े. रैना ने 25 गेंदों पर 44 रन बनाए.

इस तरह मेजबान चेन्नई की टीम ने तीन विकेट पर 200 रन का दमदार स्कोर खड़ा किया.

जबाव में कोलकाता नाइट राडर्स ने बिना किसी दबाव में आए उत्साह के साथ संघर्ष किया, लेकिन इतने बड़े लक्ष्य तक आखिरकार वो नहीं पहुंच पाए.

मनविंदर बिसला ने अच्छी बल्लेबाजी की लेकिन उनके कोशिश सिर्फ हार के अंतर को ही कम कर पाईं. उन्होंने 61 गेंदों पर 92 रन बनाए जिसमें 14 चौके और दो छक्के शामिल थे.

कोलकाता की टीम निर्धारित बीस ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर 186 रनों के स्कोर तक ही पहुंच पाई.

हसी ने बिसला को उस वक्त डायरेक्ट हिट के जरिए रन आउट किया जब वो इयोन मॉर्गन (32 नॉट आउट) के साथ लक्ष्य की तरफ बढ़ रहे थे.

बिसला जब आउट हुए तो उनकी टीम को जीत के लिए 10 गेंदों पर 23 रनों की दरकार थी.

संबंधित समाचार