नडाल के बाद फ़ेडरर भी विंबलडन से बाहर

दुनिया के सबसे प्रतिष्ठित ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट विंबलडन में इस साल शुरू से ही बड़े उलटफेर हो रहे हैं.

प्रतियोगिता के पहले ही दौर में मैच हारने वाले स्पेन के रफ़ाएल नडाल के बाद बारी आई स्विट्ज़रलैंड के रोजर फ़ेडरर की.

चोट के कारण सात खिलाड़ी विंबलडन से हटे

दूसरे दौर के मैच में तीसरी वरीयता प्राप्त फ़ेडरर हार गए. सात बार विंबलडन चैम्पियन रह चुके फ़ेडरर को यूक्रेन के सर्जेई स्टाकोवस्की ने चार सेटों के मैच में 6-7, 7-6, 7-5 और 7-6 से मात दी.

पिछले साल भी फ़ेडरर विंबलडन चैम्पियन बने थे और नडाल के हारने के बाद उन्हें ख़िताब का प्रबल दावेदार माना जा रहा था. लेकिन इस प्रतियोगिता में वे भी ज़्यादा नहीं टिक पाए.

चुनौती

शुरू से ही स्टाकोवस्की ने उन्हें कड़ी चुनौती दी. हालाँकि फ़ेडरर पहला सेट टाई ब्रेकर में जीतने में सफल रहे. उसके बाद अगले तीनों सेट अपने नाम करके स्टाकोवस्की ने इतिहास रच दिया.

पहला सेट 7-6 से जीतने के बाद फ़ेडरर को स्टाकोवस्की से कड़ी चुनौती मिली. दूसरा सेट टाई ब्रेकर में जीतने के बाद तीसरा सेट स्टाकोवस्की ने 7-5 से जीता.

चौथे सेट में फ़ेडरर ने वापसी की ज़बरदस्त कोशिश की. लेकिन मुक़ाबला टाई ब्रेकर में गया और फिर फ़ेडरर ये सेट भी हार गए.

जीत के बाद स्टाकोवस्की ने कहा कि ये जीत उनके लिए बहुत बड़ी जीत है.

(क्या आपने बीबीसी हिन्दी का नया एंड्रॉएड मोबाइल ऐप देखा? डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)