ऐशेज़: पहले टेस्ट में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को हराया

  • 14 जुलाई 2013
इंग्लैंड की जीत
Image caption इंग्लैंड की इस जीत से उनका आत्मविश्वास ज़रूर बढ़ेगा.

ऐशेज़ के पहले टेस्ट मुक़ाबले में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को 14 रनों से हरा दिया.

ट्रेंट ब्रिज में खेले गए इस टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया को जीतने के लिए दूसरी पारी में 311 रनों की ज़रूरत थी, जिसका पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलिया की टीम 296 रनों पर ऑल आउट हो गई.

इंग्लैंड की तरफ़ से जेम्स एंडरसन ने दूसरी पारी में पांच विकेट लिए और पूरे मैच में कुल दस चटकाए.

पांचवे और अंतिम दिन ऑस्ट्रेलिया को जीतने के लिए 137 रन चाहिए थे और उसके छह बल्लेबाज़ पैवेलियन लौट चुके थे.

विकेटकीपर बल्लेबाज़ ब्रैड हैडिन 11 रनों पर खेल रहे थे जबकि पहली पारी के हीरो एस्टन एगर एक रन बनाकर उनका साथ दे रहे थे.

रविवार को मैच के पांचवे दिन इंग्लैंड के गेंदबाज़ों ने ऑस्ट्रेलिया के तीन विकेट जल्द निकालकर मैच पर इंग्लैंड की पकड़ मज़बूत कर दी थी.

पांचवे दिन का खेल शुरू होते ही एंडरलसन ने एस्टन अगर को 14 रन के निजी स्कोर पर पैवेलियन भेज दिया.

आख़िरी विकेट

Image caption इंग्लैंड के गेंदबाज़ों ने कम अंतराल में ऑस्ट्रेलिया के तीन विकेट झटककर मैच को निर्णायक मोड़ दे दिया.

थोड़े ही देर के बाद स्टार्क और सिडल भी आउट हो गए और इस तरह ऑस्ट्रेलिया का स्कोर पहुंचा नौ विकेट पर 231 रन.

उस समय ऐसा लग रहा था कि इंग्लैंड के लिए अब मैच जीतना महज़ एक औपचारिकता रह गई है लेकिन तभी हैडिन और जेम्स पैटिंसन की आख़िरी विकेट की साझेदारी ने मैच में रोमांच पैदा कर दिया और मैच को इंग्लैंड की पकड़ से दूर ले जाने में लगभग कामयाबी हासिल कर ली थी.

उन्होंने आख़िरी विकेट के लिए 65 रनों की शानदार साझेदारी की लेकिन मैच जिताने में कामयाब नहीं हो सके और आख़िर में इंग्लैंड 14 रनों से ये टेस्ट जीतने में सफल हो गया.

इससे पहले चौथे दिन ऑस्ट्रेलिया जब लक्ष्य की तरफ़ आराम से बढ़ता दिख रहा था, तभी मुक़ाबले के आख़िरी दौर में इंग्लैंड ने माइकल क्लार्क, स्टीवन स्मिथ और फ़िल ह्यूजेस के विकेट झटक लिए और ऑस्ट्रेलिया का स्कोर रह गया, 174/6. ऑस्ट्रेलिया के इन तीन बल्लेबाज़ों का सिर्फ़ 18 गेंदों के भीतर आउट होना मैच को एक निर्णायक मोड़ दे गया.

अभी तक इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने साल 1948 में इंग्लैंड में 250 से ज्यादा रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए जीत हासिल की थी.

मैच की दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया की तरफ़ से शेन वाटसन और क्रिस रोजर्स ने अच्छी शुरुआत करते हुए 24 ओवरों में 84 रन बनाए थे.

वॉटसन 46 रनों के निजी स्कोर पर स्टुअर्ट ब्रॉड की गेंद पर पगबाधा आउट हो गए.

थोड़ी ही देर बाद कोवान ड्राइव करने की कोशिश में स्लिप पर कैच आउट हो गए.

इंग्लैंड ने अपनी पहली पारी में 215 रन बनाए थे जबकि आस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 280 रन बनाकर 65 रनों की बढ़त हासिल की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

संबंधित समाचार