चुनाव 2014 ट्विटर मॉड्यूल: सवालों के जवाब

  • 13 मई 2014
इमेज कॉपीरइट AFP

क्या है बीबीसी का ट्विटर मॉड्यूल?

यह बीबीसी का एक प्रयोग है जिसके ज़रिए हम आप तक पहुचाएंगे भारत के आम चुनाव 2014 के नतीजों की पल-पल बदलती तस्वीर. बीबीसी के संवाददाता नतीजों के साथ-साथ राजनीतिक दृश्य की झलकियां भी प्रस्तुत करेंगे.

इसके लिए लोगों को कैसे चुना गया है?

हमने भारतीय राजनीति पर रिपोर्टिंग कर रहे बीबीसी के संवाददाताओं, वरिष्ठ पत्रकारों के ट्विटर अकाउंट्स को इसमें शामिल किया है. इसमें बीबीसी हिंदी संस्था, बीबीसी हिंदी संपादक निधीश त्यागी, बीबीसी पत्रकार - राजेश प्रियदर्शी, नितिन श्रीवास्तव, एंड्रयू नॉर्थ, ज़ुबैर अहमद, शकील अख़्तर, पंकज प्रियदर्शी, मुकेश शर्मा, तुषार बनर्जी, संजय मजुमदार, दिव्या आर्य, सलमान रावी और पवन सिंह अतुल के ट्विटर अकाउंट हैं. ये लोग लगातार बदलती चुनावी तस्वीर और अपने विचार ट्विटर के ज़रिए व्यक्त करेंगे.

पन्ने पर जानकारियाँ?

ट्वीट चार श्रेणियों में बाँटे गए हैं.

ताज़ा तरीन ट्वीट: इस श्रेणी में आप हमारे पहले से चुने हुए खातों के कम से कम 10 ताज़ा ट्वीट्स देख सकते हैं.

ट्रेंड्स: इस श्रेणी से आपको पता चलता है कि हमारे चुने हुए लोग पिछले 24 घंटों में किस विषय पर सबसे अधिक चर्चा कर रहे हैं.

मोस्ट शेयर्ड यूआरएल्स: इससे आपको पता चलेगा किस वेब पेज को लोग सबसे अधिक शेयर कर रहे हैं यानी किन वेब पेजों में लोगों की दिलचस्पी अधिक है.

और मोस्ट एक्टिव यूज़र्स: इससे आपको पता चल सकेगा कि कौन लोग हैं जो पिछले 24 घंटों में सबसे अधिक सक्रियता से अपनी टिप्पणियाँ ट्विटर पर पोस्ट कर रहे हैं.

क्या ट्वीट्स को मॉडरेट किया जा रहा है?

सभी ट्वीट्स को छपने के बाद देखा जाएगा और ज़रूरत पड़ने पर उनका संपादन किया जा सकता है. इस संपादन का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि कोई हमारे नियमों और शर्तों को न तो़ड़ रहा हो, (हमारे नियम और शर्तें), अगर आपको लगता है कि कोई नियम तो़ड़ रहा है तो मॉडरेटर को सतर्क करने के लिए शिकायत के पन्ने पर जाएँ.

यह पन्ना कब तक एक्टिव रहेगा?

19 मई 2014 तक.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार