सीधे चार साल के लिए मैदान से बाहर करेगा वाडा

  • 15 नवंबर 2013
लांस आर्मस्ट्रांग
Image caption डोपिंग में दोषी पाए जाने के बाद साइकिलिंग स्टार आर्मस्ट्रांग का करियर 'पंचर' हो चुका है

वर्ल्ड एंटी डोपिंग एजेंसी (वाडा) ने प्रतिबंधित शक्तिवर्धक दवाओं का इस्तेमाल करने वाले खिलाड़ियों पर प्रतिबंध की अवधि दो वर्ष से बढ़ाकर चार वर्ष कर दी है.

अभी तक ये व्यवस्था थी कि इस तरह के पहले मामले में खिलाड़ी पर दो वर्ष का प्रतिबंध लगाया जाता था और दोबारा उल्लंघन करने पर उस खिलाड़ी पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया जाता था.

अगले वर्ष एक जनवरी से प्रभावी होने वाले नए नियम के तहत पकड़ में आने वाले खिलाड़ी पर सीधे चार वर्ष का प्रतिबंध लगेगा, जिससे वो कम से कम एक ओलंपिक खेल में हिस्सा नहीं ले पाएगा.

भूल-चूक के मामले

वाडा ने अपने नए नियम में उन खिलाड़ियों को सज़ा में नर्मी बरतने का फ़ैसला किया है जिन्होंने प्रतिबंधित दवाओं का सेवन अनजाने में कर लिया था.

वाडा उन खिलाड़ियों को भी राहत देगा जो डोपिंग मामलों की जांच में सहयोग करेंगे.

ब्रिटेन की खेल संस्थाओं ने वाडा के नए नियमों का स्वागत किया है.

वाडा ने ये भी पुष्टि कर दी है कि ब्रिटेन के सर क्रेग रीडाइ अगले वर्ष एक जनवरी से उसके नए अध्यक्ष होंगे.

ब्रिटिश ओलंपिक एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष क्रेग, जॉन फ़ाहे की जगह लेंगे जो बीते छह वर्ष से वाडा के अध्यक्ष हैं.

समाचार एजेंसी एएफ़पी के मुताबिक़, इंटरनेशनल एसोसिएशन ऑफ एथेलेटिक्स फेडेरेशन (आईएएएफ़) ने वाडा के नए नियमों की ये कहते हुए आलोचना की है कि इसमें प्रतिबंधित दवा का सेवन करने वाले खिलाड़ी के पास बच निकलने के कई रास्ते होंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार