पहला टेस्ट: दूसरे दिन 11 विकेट गिरे

ईशांत शर्मा

गुरुवार को भारत के 280 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण अफ्रीका की शुरुआत बहुत अच्छी नहीं रही.

मेज़बान टीम का पहला विकेट पीटरसन की शक़्ल में गिरा. उन्हें ईशांत शर्मा ने एलबीडब्ल्यू किया.

पीटरसन ने 21 रन बनाए और पहले विकेट के नुक़सान पर दक्षिण अफ्रीका का स्कोर महज 37 रन था.

टेस्ट मैच का ताज़ा स्कोर देखिए

इसके बाद अमला और कैलिस ने पारी को संभालने की कोशिश की, लेकिन एक बार फिर ईशांत शर्मा ने अपनी धारदार गेंदबाज़ी का प्रदर्शन किया और अमला को क्लीन बोल्ड कर दिया. अमला 36 रन ही बना सके.

इस समय दक्षिण अफ्रीका का स्कोर 130 रन था और ईशांत शर्मा ओवर कर रहे थे. अगली ही गेंद में ईशांत शर्मा ने कैलिस का भी विकेट चटका दिया जो अपना खाता भी नहीं खोल पाए थे.

कैलिस के बाद स्मिथ ज़हीर की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हुए. उन्होंने 68 रन बनाए.

स्मिथ के बाद ड्यूमिनी भी दो रन बनाकर पवैलियन लौट गए. उन्हें मोहम्मद शमी ने विजय के हाथों कैच आउट कराया.

ड्यूमिनी के बाद एबी डिवीलियर्स भी मोहम्मद शमी की गेंद का शिकार बने और एलबीडब्ल्यू आउट हो गए.

डूप्लेसिस 17 और फ़िलैंडर 48 रन बनाकर पिच पर डटे रहे लेकिन खेल का वक्त ख़त्म हो गया.

इस तरह, पहले टेस्ट मैच के दूसरे दिन दक्षिण अफ्रीका छह विकेट खोकर केवल 213 रन ही बना सकी.

भारतीय टीम का प्रदर्शन

इससे पहले, गुरुवार को दूसरे दिन पांच विकेट से आगे खेलते हुए भारतीय टीम ने सिर्फ़ 25 रनों के भीतर पाँच विकेट गँवा दिए और इस तरह दक्षिण अफ़्रीका के विरुद्ध पहले टेस्ट में भारत की पहली पारी 280 रनों पर सिमट गई.

वर्नान फ़िलैंडर और मॉर्नी मॉर्केल ने अंतिम पाँच विकेट जल्दी ही निबटा दिए. फ़िलैंडर ने इनमें से तीन और मॉर्केल ने दो खिलाड़ियों को पवेलियन की राह दिखाई.

पहले दिन के स्कोर 255 रनों पर पाँच विकेट से आगे की पारी अजिंक्य रहाणे और महेंद्र सिंह धोनी ने शुरू की. सबसे पहले धोनी मॉर्केल की गेंद पर विकेट के पीछे लपके गए.

धोनी ने निजी स्कोर में सिर्फ़ दो ही रन और जोड़े. वह 19 रन बनाकर आउट हुए.

इसके बाद रहाणे भी ज़्यादा देर विकेट पर नहीं रुके और 264 के स्कोर पर उनका भी विकेट गिर गया. उन्हें फ़िलैंडर ने विकेट के पीछे लपकवाया. रहाणे ने पहले दिन के अपने स्कोर में चार रन और जोड़े. इस तरह वह 47 के निजी स्कोर पर आउट हुए.

264 पर ही तीसरा विकेट भी गिर गया. ज़हीर ख़ान बिना खाता खोले हुए फ़िलैंडर की गेंद पर एलबीडब्ल्यू हुए.

ज़हीर के बाद इशांत शर्मा और मोहम्मद शमी भी खाता नहीं खोल पाए. इशांत को फ़िलैंडर ने बोल्ड किया तो शमी को मॉर्केल ने.

Image caption वर्नान फ़िलैंडर ने भारत के चार बल्लेबाज़ों को आउट किया

फ़िलैंडर को कुल चार और मॉर्केल को तीन विकेट हासिल हुए.

पहला दिन

इससे पहले मैच का पहला दिन विराट कोहली के नाम रहा था.

टॉस जीतकर भारत ने पहले बल्लेबाज़ी का फ़ैसला किया था. भारत की खराब शुरूआत के बाद चौथे नंबर पर बल्लेबाज़ी करने उतरे कोहली ने शानदार 119 रन बनाए.

अपनी करीब चार घंटे की पारी में विराट कोहली ने 181 गेंदों का सामना किया और 18 चौके लगाए. कोहली के अब तक के टेस्ट करियर का ये सर्वोत्तम प्रदर्शन था.

एक अच्छी पारी खेलने के बाद, जेपी ड्यूमिनी की गेंद पर विराट कोहली कवर ड्राइव करने की कोशिश में कालिस को कैच थमा बैठे.

विराट कोहली की पारी

अपनी पारी में कोहली ने दो महत्वपूर्ण साझेदारियां निभाईं, जिनमें चेतेश्वर पुजारा के साथ 89 रनों की और अजिंक्य रहाणे के साथ 68 रनों की साझेदारी शामिल है.

कोहली और पुजारा की साझेदारी, पुजारा के रन आउट होने से टूटी.

Image caption कोहली ने पाँचवाँ टेस्ट शतक जमाया

इमरान ताहिर की गेंद को मिड विकेट की ओर भेजकर विराट कोहली ने एक रन के लिए पुजारा को बुलाया लेकिन बाद में उन्हें वापस भेज दिया. पर तब तक काफ़ी देर हो चुकी थी और गेंद स्टंप उखाड़ चुकी था.

आक्रामक खेल दिखाते हुए विराट कोहली ने 76 गेंदों में ही अपने पचास रन पूरे कर लिए थे.

इससे पहले कोहली की सबसे अच्छी टेस्ट पारी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ़ थी जिसमें उन्होंने 116 रन बनाए थे.

भारत के सलामी बल्लेबाज़ दक्षिण अफ्रीकी तेज़ गेंदबाज़ों के आगे लड़खड़ाते हुए दिखे. शिखर धवन 13 रन बनाकर आउट हो गए जबकि मुरली विजय महज़ छह रनों पर अपना विकेट गँवा बैठे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार