माइकल शूमाकर का जन्मदिन मना रहे हैं प्रशंसक

माइकल शूमाकर के लिए प्रार्थना

सात बार के फ़ॉर्मूला वन चैंपियन माइकल शूमाकर के प्रशंसक शुक्रवार को उनके 45वें जन्मदिन पर एक शांत जुलूस निकाल रहे हैं.

शूमाकर रविवार को फ्रांस के अल्पाइन रिजॉर्ट मेरिबल में स्कीइंग करते हुए गंभीर रूप से घायल हो गए थे. उनका इस समय फ्रांस के ग्रेनोबल यूनिवर्सिटी अस्पताल में इलाज चल रहा है.

फ़्रांस और इटली के फ़ेरारी क्लब के सदस्य शुक्रवार सुबह अस्पताल के बाहर जमा हो रहे हैं. शूमाकर के परिवार ने अभी हाल ही में उनके प्रशंसकों का समर्थन के लिए आभार जताया था और जर्मन लोगों को योद्धा बताया था.

मस्तिष्क पर दबाव कम करने के लिए डॉक्टरों ने उन्हें कोमा में रखा हुआ है. फॉर्मूला वन के इतिहास के शूमाकर सबसे सफल ड्राइवर हैं.

चिंताजनक मगर स्थिर

शूमाकर की मैनेजर का कहना है कि शूमाकर की स्थिति चिंताजनक लेकिन स्थिर बनी हुई है.

अल्पाइन रिजॉर्ट मेरिबल में स्कीइंग करते समय शूमाकर का सिर एक पत्थर से टकरा गया था. इससे उनका हेलमट फट गया था.

उनका इलाज कर रहे डॉक्टरों ने गुरुवार को कहा था कि शूमाकर में सुधार के कुछ लक्षण दिखे हैं लेकिन वे अब भी ख़तरे से बाहर नहीं हैं.

डॉक्टरों ने अगले कुछ दिनों या महीनों में उनके स्वास्थ्य को लेकर कोई पूर्वानुमान लगाने से इनकार कर दिया. लेकिन चिकित्सकीय रूप से यह संभव है कि किसी को चिकित्सकीय रूप से कोमा में ले जाया जाए और बाद में वह उससे पूरी तरह उबर जाए.

संवेदनशील प्रशंसक

शूमाकर की पूर्व टीम फ़ेरारी ने कहा है कि इटली और फ्रांस में रहने वाले शूमाकर के प्रशंसकों को जन्मदिन पर ग्रेनोबल ले जाने के लिए बसों की व्यवस्था की गई है.

फ़ेरारी के प्रवक्ता रिनाटो बिसिगानी ने कहा, ''शूमाकर से निकटता प्रदर्शित करने के लिए लोगों को लाल रंग के कपड़े पहनने और झंडे लाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है. यह सब बहुत शांतिपूर्वक किया जाएगा."

प्रवक्ता ने ज़ोर देकर कहा कि यह सब ब्रांड फ़ेरारी या उसके ग्राहकों को प्रोत्साहित करने के लिए नहीं किया जा रहा है. उन्होंने कहा, ''हम यह सुनिश्चित करेंगे कि इस कठिन समय में हम संवेदनशील बने रहें.''

शूमाकर के परिवार ने गुरुवार को दुनिया के कोने-कोने से शूमाकर के जल्द ठीक होने की शुभकामनाएं भेजने और सहानुभूति व्यक्त करने के लिए उनके प्रशंसकों का आभार जताया था.

इंटरनेट पर जारी एक बयान में शूमाकर के परिवार ने कहा था, ''हम सब जानते हैं कि वह एक योद्धा हैं और हम उन्हें यूं ही नहीं जाने देंगे.''

माइकल शूमाकर 2012 में दूसरी बार फ़ॉर्मूला वन से रिटायर हो गए थे. इस प्रतियोगिता का ख़िताब उन्होंने सात बार जीता था. अपने 19 साल के करिअर में शूमाकर ने 91 रेसों में जीत दर्ज की.

उन्होंने 1994 और 1995 में बेनेटन के लिए विश्व ख़िताब जीते थे और फिर उन्होंने साल 2000 से लगातार पाँच बार फेरारी के लिए ख़िताब अपने नाम किए.

शूमाकर ने साल 2006 में खेल से संन्यास ले लिया था लेकिन साल 2010 में उन्होंने मर्सिडीज़ के साथ फिर ट्रैक पर वापसी की और फिर 2012 में दोबारा संन्यास ले लिया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार