सोची ओलंपिक का समापन, शीर्ष पर रूस

  • 24 फरवरी 2014
सोची ओलंपिक खेलों का समापन समारोह इमेज कॉपीरइट AFP

रूस के सोची में 22वें शीतकालीन ओलंपिक खेल रंगारंग कार्यक्रम के साथ ही संपन्न हो गए हैं. इन खेलों में मेज़बान रूस पदक तालिका में शीर्ष पर रहा.

17 दिन चले खेलों के समापन समारोह की अध्यक्षता अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के अध्यक्ष थॉमस बाक ने की.

130 मिनट के समापन समारोह में रूस ने जमकर ख़र्च किया. समापन समारोह के दौरान ओलंपिक ध्वज दक्षिण कोरिया को सौंप दिया गया.

सोची में ब्रिटेन ने 26 पदकों के साथ शीतकालीन ओलंपिक खेलों में अपने अब तक के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की बराबरी की.

सोची में ओलंपिक खेल शुरू होने से पहले चरमपंथी हमले की आशंका और रूस के कठोर समलैंगिकता विरोधी क़ानूनों को लेकर प्रदर्शनों ने खेलों को लेकर मेज़बान रूस की चिंता बढ़ा दी थी.

समापन समारोह में थॉमस बाक ने कहा, "रूस और सोची ने अपना वादा पूरा किया और चिंताओं से ऊपर उठकर प्रभावशाली ओलंपिक खेल आयोजित किए."

बाक ने कहा, "यह उत्कृष्ट खेल आयोजन था और इससे खेलों के शुरू होने से पहले की गई आयोजकों की आलोचना पलट जाएगी."

इमेज कॉपीरइट Getty

फिश्ट स्टेडियम में आयोजित समापन समारोह में अपने भाषण में बाक ने ओलंपिक के मूल मूल्यों पर ज़ोर देते हुए कहा, "ओलंपिक गाँव में एक छत के नीचे एक साथ रहकर धावकों ने सोची से दुनिया को समाज में शांति, सम्मान और सहिष्णुता का संदेश दिया है."

सोची ओलंपिक खेलों में रूस ने 13 स्वर्ण पदकों के साथ कुल 33 पदक जीतकर पदक तालिका में पहला स्थान हासिल किया. हालाँकि राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन की आइस हॉकी में स्वर्ण पदक की ख्वाहिश पूरी नहीं हो सकी.

2010 में कनाडा के वेंकोवर में हुए शीतकालीन ओलंपिक खेलों में रूस सिर्फ 15 पदक ही जीत सका था और पदक तालिका में 11वें स्थान पर था. यह रूस का शीतकालीन ओलंपिक खेलों में सबसे ख़राब प्रदर्शन भी था.

इमेज कॉपीरइट Getty

सोची ओलंपिक खेलों पर करीब तीस अरब पाउंड खर्च हुए और इन्हें अब तक का सबसे महंगा खेल आयोजन माना जा रहा है. सोची में 88 देशों के कुल 2800 एथलीटों ने हिस्सा लिया. इस बार युवा प्रशंसकों को जोड़ने के लिए 12 नई स्पर्धाएं ओलंपिक में जोड़ी गईं थी.

शीतकालीन ओलंपिक खेलों के इतिहास में सबसे बड़ा डोपिंग निरोधक अभियान भी सोची में चलाया गया. ओलंपिक के दौरान कुल 2453 डोप टेस्ट किए गए जिनमें छह एथलीट टेस्ट पास करने में नाकाम रहे.

सोची ओलंपिक के दौरान आवारा कुत्तों की समस्या भी सामने आई और इसके बारे में भी खासी चर्चा होती रही.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार