आधे रास्ते पहुँचा ट्वेंटी-20 वर्ल्ड कप क्रिकेट

भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी इमेज कॉपीरइट AP

बांग्लादेश में खेले जा रहे वर्ल्ड ट्वेंटी-ट्वेंटी क्रिकेट टूर्नामेंट में इन दिनों सुपर 10 के मुक़ाबले जारी हैं, हालांकि उतार-चढ़ाव भरे परिणामों के बीच बुधवार को कोई मैच नहीं खेला जाएगा.

एक दिन के आराम के बाद सभी टीमें तरोताज़ा होकर गुरुवार से एक बार फिर अपनी कमर कसकर मैदान में उतरेंगी. मंगलवार को केवल एक मैच खेला गया, जिसमें वेस्टइंडीज़ ने मेज़बान बांग्लादेश को 73 रनों से हराया.

(भारत ने वेस्टइंडीज़ को हराया)

इससे पहले क्वालिफ़ाइंग मुक़ाबलों में मेज़बान बांग्लादेश और हॉलैंड ने अपने दमदार खेल के बल पर भारत, पाकिस्तान, वेस्टइंडीज़, न्यूज़ीलैंड, दक्षिण अफ़्रीक़ा, ऑस्ट्रेलिया, श्रीलंका और इंग्लैंड के साथ सुपर-10 में अपनी जगह बनाई.

सुपर 10 में पहला मैच भारत और पाकिस्तान के बीच हुआ, जिसे भारत ने बेहद आसानी से सात विकेट से अपने नाम कर लिया था. इसके बाद भी भारत ने अपनी जीत का सिलसिला बरक़रार रखा और अगले मुक़ाबले में पिछली चैंपियन वेस्टइंड़ीज़ को भी सात विकेटों से मात दी.

रोमांचक मुक़ाबला

इमेज कॉपीरइट AFP

भारत के ख़िलाफ़ पाकिस्तान और वेस्टइंड़ीज़ ने जिस तरह निराशाजनक प्रदर्शन किया है, उस तरह के खेल का अंदाज़ा शायद ही किसी ने लगाया हो. वेस्टइंड़ीज़ के ख़िलाफ़ तो भारत के तेज़ गेंदबाज़ भुवनेश्वर कुमार ने तीन ओवर में केवल तीन रन दिए.

(भारत की जीत का आगाज़)

यह इस विश्व कप में किसी भी गेंदबाज़ की सबसे किफ़ायती गेंदबाज़ी है. अभी तक सुपर 10 के मुक़ाबलों में सबसे अधिक स्कोर पाकिस्तान ने ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ बनाया है. पाकिस्तान ने इंग्लैंड के ख़िलाफ़ निर्धारित 20 ओवर में पांच विकेट खोकर 191 रन बनाए.

इस मुक़ाबले में पाकिस्तान के उमर अकमल ने 94 रन बनाए, जो इस विश्व कप में अब तक किसी भी बल्लेबाज़ का सर्वाधिक व्यक्तिगत स्कोर है. इस टूर्नामेंट में अभी तक का सबसे रोमांचक मुक़ाबला न्यूज़ीलैंड और दक्षिण अफ़्रीक़ा के बीच खेला गया जिसे दक्षिण अफ़्रीक़ा ने महज़ दो रन से जीता.

दक्षिण अफ़्रीक़ा के तेज़ गेंदबाज़ डेल स्टेन ने इस मुक़ाबले में चार ओवर में 17 रन देकर चार विकेट लिए. वेस्टइंडीज़ के सैमुअल बद्री ने भी बांग्लादेश के ख़िलाफ़ 15 रन देकर चार और उनके जोड़ीदार क्रिशमर संतोकी ने भी 17 रन देकर चार विकेट लेकर अपना दमख़म दिखाया.

मज़बूत स्थिति

इमेज कॉपीरइट AP

इसके अलावा श्रीलंका ने हॉलैंड को केवल 10.3 ओवर में ही 39 रन पर ढेर किया. यह किसी भी टीम का ट्वेंटी-ट्वेंटी क्रिकेट टूर्नामेंट में बनाया गया न्यूनतम स्कोर है. इससे पहले पिछले ट्वेंटी-ट्वेंटी विश्व कप में साल 2010 में आयरलैंड ने वेस्टइंड़ीज़ के ख़िलाफ 68 रन बनाए थे.

(ट्वेंटी-ट्वेंटी क्रिकेट का घमासान)

हॉलैंड के ख़िलाफ़ श्रीलंका के तेज़ गेंदबाज़ नुवान कुलासेकरा ने दो ओवर की गेंदबाज़ी में बिना कोई रन दिए एक विकेट लिया. यह भी किफ़ायती गेंदबाज़ी का एक बेहतरीन नमूना है.

भारत ने पाकिस्तान और वेस्टइंडीज़ को हराकर अपनी स्थिति काफ़ी मज़बूत कर ली है. सुपर 10 में अब उसका सामना 28 मार्च, शुक्रवार को बांग्लादेश से और 30 मार्च, रविवार को ऑस्ट्रेलिया से होगा.

भारत के लेग स्पिनर अमित मिश्रा पिछले दोनों मुक़ाबलों में मैन ऑफ़ द मैच रहे हैं और उन्होंने पाकिस्तान और वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ दो-दो विकेट लेकर अपनी उपयोगिता साबित की है.

बड़ी चिंता

इमेज कॉपीरइट AFP

इस विश्व कप में भारतीय गेंदबाज़ों ने अभी तक हैरतअंगेज़ प्रदर्शन किया है और भारतीय बल्लेबाज़ों ने भी किसी तरह की हड़बड़ाहट नहीं दिखाई है. लंबे समय से नाकाम चल रहे सलामी बल्लेबाज़ रोहित शर्मा ने वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ नाबाद 62 रन बनाकर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को बड़ी राहत दी.

(टीम इंडिया की कमज़ोर गेंदबाज़ी?)

विराट कोहली तो ख़ैर फ़ॉर्म में हैं ही. धोनी की सबसे बड़ी चिंता युवराज सिंह को लेकर है, लेकिन उन्हें उम्मीद है कि वह भी जल्दी ही खोई हुई फ़ॉर्म हासिल कर लेंगे.

अभी तक भारत और श्रीलंका ने दो-दो जीत हासिल की हैं जिसके आधार पर कहा जा सकता है कि इन दोनों टीमों का सेमीफ़ाइनल में पहुंचने का दावा सबसे अधिक मज़बूत है.

उल्लेखनीय है कि ग्रुप वन और ग्रुप टू से दो-दो शीर्ष टीमें सेमीफ़ाइनल में अपनी जगह बनाएंगी जबकि बाक़ी टीमों के लिए अभी कुछ कहना जल्दबाज़ी होगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार