विवादों के बीच आईपीएल का आग़ाज़

  • 16 अप्रैल 2014
इंडियन प्रीमियर लीग इमेज कॉपीरइट AFP

मंगलवार को कुछ भारतीय अख़बारों में आबू धाबी के होटल की लॉबी में खड़े चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और उनकी पत्नी की मुस्कुराती हुई तस्वीर छपी.

भारत के इस सबसे मंहगे खिलाड़ी की मुस्कुराहट देखने से लगता ही नहीं कि इंडियन प्रीमियर लीग अपने सबसे बुरे दौर से गुज़र रही है.

यह भी रोचक है कि बुधवार को जब चकाचौंध से भरी तथाकथित कई हज़ार करोड़ वाले आईपीएल के सातवें सीज़न की शुरुआत होगी, उससे घंटो पहले दिल्ली में सुप्रीम कोर्ट आईपीएल में स्पॉट फ़िक्सिंग मामले की जांच पर कुछ अहम टिप्पणियां भी कर चुकी है.

बुधवार को अदालत में हुई सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा है कि जस्टिस मुदगल की अध्यक्षता वाली जांच समीति ने जो रिपोर्ट कोर्ट को सौंपी है उसमें 12 आईपीएल खिलाडियों समेत पूर्व बीसीसीआई अध्यक्ष एन श्रीनिवासन का भी ज़िक्र है.

यह बताना ज़रुरी है कि पिछले महीने इस अदालत ने लीग की दो टीमों चेन्नई सुपरकिंग्स और राजस्थान रॉयल्स को बाहर का रास्ता तक दिखाने का मन बना लिया था.

एक बार लगा कि आईपीएल डूबने वाला है. लेकिन उसने अपने अंतरिम आदेश में न केवल इन दोनों टीमों बल्कि पूरी आईपीएल को ही राहत दे दी.

चेन्नई सुपरकिंग्स के मालिक और बोर्ड के अध्यक्ष एन श्रीनिवासन के दामाद गुरुनाथ मयप्पन पर टीम की रणनीति की जानकारी सट्टेबाज़ों को देने और आईपीएल के मैचों में सट्टा लगाने का आरोप है.

विवादों का साया

इमेज कॉपीरइट AP

मुबंई पुलिस ने उनके ख़िलाफ़ मुक़दमा भी दर्ज किया है. जबकि राजस्थान के मालिक राज कुंद्रा पर भी मैचों मैं पैसा लगाने का आरोप है.

क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ़ बंगाल के सचिव आदित्य वर्मा ने बीबीसी से कहा, “मैंने सुनवाई में अदालत से इस पूरी आईपीएल की जांच सीबीआई या एनआईए से करवाने की मांग करी है. आईपीएल के घोटालों के पर्दा उठना ही चाहिए.”

वर्मा ही भारतीय क्रिकेट बोर्ड पर आईपीएल में हुई मैच फ़िक्सिंग के आरोप लगाते हुए कोर्ट में गए हैं.

भारत में इस समय आम चुनाव हो रहे हैं. इसके मद्देनज़र आईपीएल का एक हिस्सा संयुक्त अरब अमीरात में खेला जाना है जिसमें शारजाह शामिल है.

15 मई के बाद आईपीएल भारत में लौटेगा. वैसे भारतीय क्रिकेट बोर्ड और टीमों को इसका नुक़सान उठाना पड़ेगा लेकिन वे राहत शायद इस बात से है कि मीडिया फ़िलहाल उनका पीछा छोड़ देगा.

हालांकि भारतीय खेल मंत्रालय ने बोर्ड को पत्र लिख कर आईपीएल का यूएई ले जाने के कारण पूछे हैं.

क्रिकेट समीक्षकों के अनुसार 80 के दशक में यूएई ख़ासकर शारजाह मैच फिक्सरों का गढ़ सा माना जाता था.

धोनी की चुनौती

इमेज कॉपीरइट AFP

बेशक इन दिनों कूल कप्तान धोनी हर फोटो में मुस्कुराते नज़र आ रहे हैं लेकिन आईपीएल में लगे 'दाग' से पार पाना उनके लिए भी मुश्किल भरा साबित हो रहा है.

उनके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट के जसटिस मुदगल आयोग के सामने झूठ बोलने और मयप्पन को बचाने का कथित आरोप लगा है.

टीम की हार या फिर आईपीएल में उनकी टीम के फिर किसी विवाद में फंसने की स्थिति में धोनी खुद को शायद ही जवाबदेयी से बचा पाएं.

ऐसे में यह सत्र उनके लिए काफी दबाव भरा हो सकता है

इस सब के बीच आईपीएल की टीमों ने आबू धावी और शारजाह पहुंचाना शुरु कर दिया है. इस सत्र की शुरुआत मुंबई इंडियंस और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच बेहद गर्म आबू धाबी में होना है.

यकीनी तौर पर मुंबई इंडियंस की ओर से रोहित शर्मा बड़ा नाम होंगे लेकिन सबकी निगाहें न्यूज़ीलैंड के 23 वर्षिय आतिशी बल्लेबाज़ कोरे एंडरसन पर रहेंगी.

एंडरसन इसी साल वेस्टइंडीज के ख़िलाफ़ 36 गेंद पर शतक बनाने का विश्व रिकॉर्ड बनाने के कारण चर्चा में आए थे.

युवराज पर निगाहें

इमेज कॉपीरइट AFP

कोलकाता के कप्तान गौतम गंभीर के लिए यह सत्र ख़ुद को साबित करने का है लेकिन इस टीम में सबसे बड़ा आकर्षण रिटायरमेंट ले चुके ज़ाक कालिस होंगे.

जाहिर है कि पहला मैच काफ़ी रोचक होने वाला है. हालांकि पूरे टूर्नामेंट की बात करें तो आईसीसी टी-20 कप में धीमा खेलने के कारण अपने चाहने वालों की आलोचनाओं का शिकार बने युवराज सिंह के खेल को काफी क़रीब के आंका जाना है.

रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर के मालिक विजय माल्या ने उन्हें इस बार की बोली में 14 करोडॉ में ख़रीदा है.

वह भी ऐसे समय में जब एयरलाइंस कंपनी चलाने वाले माल्या के अनुसार उनके पास अपने पाटलटों व अन्य स्टाफ़ का वेतन देने के लिए पैसा भी नहीं है.

यह सीज़न आईपीएल के कुछ युवा खिलाड़ियों के लिए खुद को साबित करने का एक बड़ा मंच रहेगा.

इनमें चेन्नई सुपरकिंग्स के बाबा अपाराजित और रॉयल चैलेंजर्स के विजय जोल भी शामिल हैं.

इन दोनों के अंडर-19 और अपने राज्य की टीमों के लिए बेहतरीन प्रदर्शन की बदौलत आईपीएल टीमों को अपनी और खींचा है.

इसके अलावा सन राइजर्स हैदराबाद के रिकी भूई भी हैं जिनकी उम्र सिर्फ़ 17 साल है.

यक़ीनी तौर पर आईपीएल में हुई स्पॉट फ़िक्सिंग और उजागर हुए कई विवादों के कारण इसकी छवि को काफी नुक़सान हुआ है लेकिन लगता नहीं कि इसका असर संयुक्त अरब अमीरात के क्रिकेट प्रेमियों पर पड़ा है.

आईपीएल ने दावा किया है कि पहले हफ्ते की सारी टिकटें बिक चुकी हैं. यह दावे कितने सहीं हैं, यह मैच शुरु होने के बाद ही पता लग पाएगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार