फ़्रेंच ओपन में उलटफ़ेर का दौर जारी

इमेज कॉपीरइट AFP

साल के दूसरे ग्रैंड स्लेम फ्रेंच ओपन टेनिस टूर्नामेंट के पहले ही राउंड से उलटफेर का सिलसिला जारी है.

महिला वर्ग में विश्व की पूर्व नंबर एक खिलाड़ी डेनमार्क की कैरोलीन वोज्नियाकी भी पहले दौर से बाहर हो गईं.

उन्हें बेल्जियम की यानिना विकमेयर ने 7-6, 4-6, 6-2 से हराया. साल 2007 से फ्रेंच ओपन में हिस्सा ले रहीं वोज्नियाकी पहली बार शुरुआती दौर से बाहर हुई हैं.

लग यही रहा है कि उनका वक़्त सही नहीं चल रहा है. हाल ही में अपने ब्वॉयफ्रेंड और उत्तरी आयरलैंड के गोल्फ़र रॉरी मैकलरॉय से उनका ब्रेकअप हुआ और उसके बाद ये करारी हार.

वैसे पहले राउंड में उलटफ़ेर का शिकार होने वाली वो अकेली नहीं हैं.

ली ना बाहर

टूर्नामेंट में दूसरी वरीयता प्राप्त और साल 2011 की चैंपियन चीन की ली ना पहले ही दौर में बाहर हो गईं.

उन्हें पहले ही दौर में फ्रांस की क्रिस्टिना मलाडेनोविक ने 5-7, 6-3, 6-1 से हराया.

ली ना इस साल ऑस्ट्रेलियन ओपन में चैंपियन बनीं थीं. इस हार के साथ ही उन्होंने ऑस्ट्रेलियन ओपन और फ्रेंच ओपन एक ही साल जीतने का कारनामा दिखाने का मौका गंवा दिया है.

इमेज कॉपीरइट AP

आख़िरी बार 2001 में जेनिफर कैप्रियाती ने यह कारनामा दिखाया था. ली ना के बाहर होने के साथ ही इस साल ऑस्ट्रेलियन ओपन के पुरुष और महिला चैंपियन फ़्रेंच ओपन से बाहर हो गए हैं.

सबसे बड़ी जीत

ली ना से पहले सोमवार को पुरुष वर्ग में स्विटजरलैंड के स्टेनिस्लास वावरिंका को पहले दौर में हार का सामना करना पड़ा था.

मलाडेनोविक साल 2009 की फ्रेंच ओपन जूनियर चैंपियन रही हैं और उनकी मौजूदा रैंकिंग 103 है.

दुनिया की दूसरे नंबर की खिलाड़ी ली ना के ख़िलाफ़ जीत 21 साल की मलाडेनोविक के करियर की यह सबसे बड़ी जीत है.

छठी सीड सर्बिया की येलेना यांकोविच और उनकी हमवतन अना इवानोविच दूसरे दौर में पहुँचने में सफल रहीं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार