कोलकाता फिर बना आईपीएल चैंपियन

इमेज कॉपीरइट PTI

कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए रविवार सुपरसंडे साबित हुआ जब उसने बैंगलोर में आईपीएल-7 के ख़िताबी मुक़ाबले में किंग्स इलेवन पंजाब को तीन गेंद शेष रहते तीन विकेट से मात दी.

कोलकाता नाइट राइडर्स ने गौतम गंभीर की कप्तानी में दूसरी बार ये ख़िताब अपने नाम किया है. कोलकाता के सामने जीत के लिए 200 रन का लक्ष्य था जो उसने 19.3 ओवर में सात विकेट खोकर हासिल किया.

कोलकाता की जीत में मनीष पांडे ने 50 गेंदों पर 94 रन बना कर अहम भूमिका निभाई. उन्होंने अपनी पारी में सात चौके और छह छक्के जमाए.

उनके अलावा यूसुफ पठान ने भी 36 रनों की उपयोगी पारी खेली. हालांकि एक समय कोलकाता के छह विकेट 17 ओवर तक गिर चुके थे और तब उसका स्कोर 179 रन था और 187 रन तक पहुंचते पहुंचते उसका सातवां विकेट भी गिर गया.

ऐसे में सुनील नारायण और पीयूष चावला ने कोलकाता की नैया पार लगाई. पीयूष चावला ने केवल पांच गेंदों पर एक चौका और एक छक्का लगाते हुए नाबाद 13 रन बनाए जबकि सुनील नारायण दो रन बना कर नाबाद रहे.

पंजाब की ओर से करणवीर सिंह ने 54 रन देकर चार विकेट हासिए किए.

पंजाब की पारी

इससे पहले कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान गौतम गंभीर ने टॉस जीत कर पहले फील्डिंग करने का फ़ैसला किया.

उम्मीदों के अनुरूप बैंगलोर के चिन्नास्वामी स्टेडियम की पिच बल्लेबाजों के लिए मुफ़ीद साबित हुई. पंजाब के बल्लेबाज़ों ने निर्धारित बीस ओवरों में चार विकेट खोकर 199 रन बनाए.

इमेज कॉपीरइट PTI

हालांकि पिछले मैच में 122 रनों की तूफ़ानी पारी खेलने वाले वीरेंद्र सहवाग केवल सात रन बनाकर उमेश यादव की गेंद पर गौतम गंभीर को कैच दे बैठे.

दूसरे छोर पर खेल रहे मनन वोहरा के साथ उन्होंने पहले विकेट के लिए 23 रन जोड़े. इसके बाद जब पंजाब का स्कार केवल 30 रन था, तभी कप्तान जॉर्ज बैली सुनील नारायण की गेंद पर बोल्ड हो गए.

उन्होंने दो गेंदों का सामना करते हुए केवल एक रन बनाया. ऐसे में लगा कि शायद कोलकाता ने पंजाब पर पकड़ बना ली है, लेकिन तभी विकेट कीपर बल्लेबाज़ रिद्धिमान साहा ने बेहद शानदार पारी खेलते हुए केवल 55 गेंदों पर 115 रनों की नाबाद शतकीय पारी खेली.

अपना शतक उन्होंने महज़ 49 गेदों पर आठ चौके और आठ छक्के लगाते हुए पूरा किया. वैसे अपनी पारी के दौरान उन्होंने कुल मिलाकर 10 चौके लगाए.

रिद्धिमाना साहा को मनन वोहरा के रूप में एक बेहतरीन जोड़ीदार मिला और इन दोनों ने मिलकर तीसरे विकेट के लिए 129 रनों की अहम साझेदारी निभाई.

मनन वोहरा ने 52 गेदों पर छह चौके और दो छक्के लगाते हुए 67 रन बनाए.

इन दोनों बल्लेबाज़ों के अलावा किसी को ज़्यादा जौहर दिखाने का मौका भी नहीं किया, जिसके कारण इस आईपीएल अपने बल्ले का कहर बरपाते आ रहे मैक्सवेल केवल एक गेंद खेलकर बिना खाता खोले पीयूष चावला का शिकार बने.

कोलकाता नाइट राइडर्स की ओर से पीयूष चावला ने 44 रन देकर दो और सुनील नारायण ने 46 रन देकर एक विकेट हासिल किया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार