मेसी ने दाग़ा इस विश्व कप में अपना पहला गोल

आर्जन्टीना का खिलाड़ी लियोनेल मेसी इमेज कॉपीरइट AFP

ब्राज़ील में खेले जा रहे विश्व कप फुटबॉल टूर्नामेंट में रविवार को तीन मुक़ाबले खेले गऐ. पहले मुक़ाबले में स्विटज़रलैंड और इक्वाडोर आमने-सामने थे जहां स्विटज़रलैंड ने 2-1 से मैच अपने नाम किया.

इस मैच में इक्वाडोर ने पहला गोल दागा. यह गोल खेल के 22वें मिनट में इनेल वेलेंसिया ने किया.

इक्वाडोर के वेलेंसिया ने 10 अंतराष्ट्रीय मैच खेलते हुए 4 गोल किए हैं. मघ्यांतर तक स्कोर यही रहा, लेकिन इसके बाद इक्वाडोर ने मैच से अपनी पकड़ खो दी.

मघ्यांतर के बाद 48वें मिनट में स्विटज़रलैंड के एदमीर महमीदी ने गोल कर टीम को 1-1 से बराबरी दिलाई. इसके बाद निर्धिरित समय तक भी स्कोर यही रहा, लेकिन अतिरिक्त समय के खेल में स्विटज़रलैंड के फॉरवर्ड हेरिस सेफेरोविच ने गोल कर टीम को 2-1 से जीत दिला दी.

'सबसे बेहतरीन मैच'

इस मैच की समीक्षा करते हुए जाने-माने फुटबॉल समीक्षक नोवी कपाड़िया कहते हैं, "यह इस विश्व कप का सबसे बेहतरीन मैच थी. मैच बहुत तेज गति से खेला गया. दोनो टीमों ने गोल करने के लिए 30 बार कोशिश की. ख़ुद स्विटज़रलैंड ने 18 ट्राई की. लेकिन इसके लिए स्विटज़रलैंड को रैफ्री रवशान इरमातोव का घन्यवाद भी करना पडेगा क्योंकि उन्होने एडवांस तकनीक का इस विश्व कप में पहली बार इस्तेमाल किया, जब स्विटज़रलैंड के खिलाड़ी को बीच मैदान में गिराया गया.

नोवी कपाडिया ने आगे कहा, "उसके बाद आक्रमण पर सेफेरोविच ने गोल किया. गर्मी के बावजूद स्विटज़रलैंड ने जैसा खेल दिखाया उसके बाद कहा जा सकता है कि इस टीम में क्वार्टर फाइनल में पहुंचने का दमख़म है."

रविवार को ही खेले गए दूसरे मुक़ाबले में उम्मीदो के अनुरूप फ्रांस ने होंडुरास को 3-0 से हराया.

फ्रांस का पलड़ा तो इस मैच में पहले से ही भारी माना जा रहा था लेकिन इसके बावजूद पहले गोल के लिए उसे 45 मिनट तक इंतज़ार करना पडा. पहला गोल आया तो ज़रूर लेकिन वह पेनल्टी की बदौलत आया जब पैनल्टी एरिये के बाहर से मिली फ्री किक पर गोल करने की कोशिश कर रहे फ्रांस के पोग्बा को होंडुरास के विल्सन पालासिओस ने गिराने की कोशिश की.

पेनल्टी को फ्रांस के बेनज़ेमा ने गोल में बदला. मघ्यांतर तक फ्रांस 1-0 से आगे रहा.

दूसरे हाफ में फ्रांस के वालादारेस ने 48वें मिनट में दूसरा गोल किया जबकि 72 वें मिनट में बेनज़ेमा ने अपने लिए दूसरा गोल करते हुए स्कोर 3-0 कर दिया.

यलो कार्ड

नोवी कपाडिया इस मुक़ाबले को लेकर मानते है कि विल्सन लगातार फाउल कर रहे थे नतीजा उन्हे दो यैलो कार्ड दिखाये गये.

यह तीन भाई हैं जो होंडुरास के लिए खेलते है, इस बार दो भाई आए है. उन्होने अपना दिमाग़ ठंडा नही रखा नतीजा भुगतना पडा. फ्रांस की टीम पूरे मैच में हावी रही. फ्रांस के खिलाड़ियों की कोशिश दो बार तब नाकाम हुई जब बॉल गोल बार से टकराकर बाहर आ गई लेकिन इसके बाबजूद एक अच्छी जीत और तीन महत्वपूर्ण अंक हासिल करने में फ्रांस कामयाब रहा.

रविवार को जिस मुक़ाबले का सभी फुटबॉल प्रेमियों को बेसब्री से इंतज़ार था वह स्टार खिलाड़ी लियोनेल मेसी की टीम अर्जेंटीना और बोस्निया एंड हर्ज़ेगोविना के बीच.

इस मैच को अर्जेंटीना ने 2-1 से अपने नाम किया.

फुटबॉल प्रमियों को मेसी का जादू देखने को मिला लेकिन इसके लिए उन्हे 65 मिनट तक इंतज़ार करना पड़ा. मेसी ने एक शानदार पास पर बोस्निया एंड हर्ज़ेगोविना के दो डिफेंडरो को छकाते हुए एक दमदार शॉट गोलबॉक्स की तरफ लगाया दो गोल पोस्ट से टकराते हुए जाल में समा गया.

इसके अलावा मेसी ने कई बेहतरीन मूव भी अर्जेंटीना के लिए बनाए. वैसे अर्जेंटीना के लिए पहला गोल तब आया जब बोस्निया के कोलासिनेक बॉल क्लियर करने की कोशिश में टीम पर ही आत्मधाती गोल कर बैठे. हॉलाकि बोस्निया के इबीसेविच ने 84वें मिनट में गोल कर अर्जेंटीना की जीत की चमक को थोडा कमज़ोर ज़रूर किया.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे क्लिक करें फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार