कोलकाता और चेन्नई में होगा फ़ाइनल

धोनी और गंभीर इमेज कॉपीरइट AFP

चैंपियंस लीग टी-20 का फ़ाइनल दो भारतीय टीमों के बीच खेला जाएगा.

गुरुवार को हुए सेमीफ़ाइनल जीतकर कोलकाता नाइट राइडर्स और चेन्नई सुपरकिंग्स ने फ़ाइनल में जगह बना ली है.

पहले सेमीफ़ाइनल में होबार्ट हरीकेंस को सिर्फ़ 140 रनों पर रोकने के बाद कोलकाता की टीम ने सात विकेट से जीत दर्ज की.

दूसरा सेमीफ़ाइनल चेन्नई सुपरकिंग्स ने किंग्स एलेवन पंजाब को 65 रनों से हराकर जीता. चेन्नई ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए सात विकेट पर 182 रन बनाए थे.

पहला सेमीफ़ाइनल

पहले सेमीफ़ाइनल में टॉस होबार्ट ने जीता और पहले बल्लेबाज़ी का फ़ैसला किया. उनके विकेट लगातार अंतराल पर गिरते रहे और वे 20 ओवरों में छह विकेट पर सिर्फ़ 140 रन बना सके.

इमेज कॉपीरइट AFP

उनकी पारी में बेन डंक और शोएब मलिक ही कुछ टिककर खेल पाए. डंक ने 39 रन बनाए जबकि मलिक ने चार चौकों और चार छक्कों की मदद से 46 गेंदों में 66 का स्कोर किया.

शोएब अंत तक आउट नहीं हुए.

इसके बाद कोलकाता के कप्तान गंभीर भले ही चार रनों पर आउट हो गए हों मगर टीम ने अंतिम ओवर की पहली गेंद पर जीत हासिल कर ली.

रॉबिन उथप्पा 17, मनीष पांडेय 40 रन बनाकर आउट हुए. जबकि ज्याक़ कालिस 54 और यूसुफ़ पठान 14 रनों पर नॉट आउट रहे.

दूसरा सेमीफ़ाइनल

मुक़ाबला किंग्स एलेवन पंजाब और चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच था. अब तक पंजाब की टीम बेहतरीन प्रदर्शन कर रही थी मगर इस मैच में टीम के स्टार बल्लेबाज़ नहीं चले.

इमेज कॉपीरइट
Image caption सहवाग इस मैच में खाता भी नहीं खोल सके

पंजाब की टीम ने टॉस जीतकर पहले फ़ील्डिंग का फ़ैसला किया. चेन्नई ने फ़फ़ दु प्लेसी के 46 और ड्वेन ब्रावो के 67 रनों की मदद से सात विकेट पर 182 रन बनाए.

रैना सिर्फ़ छह रन बना सके तो धोनी बिना खाता खोले ही आउट हो गए. पंजाब की ओर से परविंदर अवाना ने चार विकेट लिए.

इसके बाद पंजाब की टीम शुरू में ही लड़खड़ा गई. पहले सहवाग बिना खाता खोले आउट हुए और उसके बाद सिर्फ़ 34 रनों तक छह विकेट गिर गए.

टीम के दूसरे स्टार बल्लेबाज़ ग्लेन मैक्सवेल भी खाता नहीं खोल पाए. आख़िरकार पूरी टीम 18 ओवर दो गेंदों में 117 रनों पर आउट हो गई.

फ़ाइनल चार अक्तूबर को खेला जाएगा.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप हमसे फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ सकते हैं.)

संबंधित समाचार