दौरा छोड़कर जाने पर रद्द होगा अनुबंध

क्रिस गेल इमेज कॉपीरइट AFP

अब कोई भी अंतरराष्ट्रीय दौरा बीच में छोड़कर जाने वाली टीम या खिलाड़ियों को इसकी भारी क़ीमत चुकानी होगी.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने अक्तूबर में भारत का दौरा बीच में छोड़कर जाने वाली वेस्टइंडीज़ की टीम के क़दम को बेहद दुर्भाग्यपूर्ण बताया और कहा कि अगर भविष्य में कोई भी टीम या उसके खिलाड़ी ऐसा करते हैं तो उनके तमाम टी-20 कॉन्ट्रैक्ट (अनुबंध) रद्द कर दिए जाएंगे.

ड्वेन ब्रावो, क्रिस गेल, केरन पोलार्ड और डैरेन सैमी समेत वेस्टइंडीज़ के कई खिलाड़ी टी-20 विशेषज्ञ माने जाते हैं और इंडियन प्रीमियर लीग समेत कई प्राइवेट लीग में खेलते हैं.

'धक्का पहुंचा'

इमेज कॉपीरइट Reuters

आईसीसी ने अपनी प्रेस रिलीज़ में कहा, "सभी सदस्य बोर्ड ने मिलकर इस मामले पर अपने विचार रखे और कहा वेस्टइंडीज़ टीम का रवैया क्रिकेट को नुकसान पहुंचाने वाला और अस्वीकार्य है."

आईसीसी ने कहा, "जो खिलाड़ी फिर ऐसा करेंगे उन पर ना सिर्फ़ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी और प्रतिबंध लगाए जाएंगे बल्कि घरेलू और क्लब स्तर पर भी वे किसी भी तरह के अनुबंध नहीं कर पाएंगे."

'अफ़सोसजनक अध्याय'

इमेज कॉपीरइट AFP

आईसीसी के अध्यक्ष एन श्रीनिवासन ने कहा, "जो हुआ वो क्रिकेट के इतिहास में एक अफ़सोसजनक अध्याय है. इससे क्रिकेट की छवि को धक्का पहुंचा है. साथ ही क्रिकेट प्रशंसकों का भरोसा टूटा है. आईसीसी इस स्थिति से निपटने के लिए कटिबद्ध है. और हम इंतज़ाम करेंगे कि भविष्य में ऐसा ना हो."

बीसीसीआई ने वेस्टइंडीज़ क्रिकेट बोर्ड से दौरा बीच में छोड़कर जाने के एवज़ में भारी भरकम हर्ज़ाने की मांग की है.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार