आईपीएल फ़िक्सिंगः चार नाम आए, चुनाव स्थगित

इमेज कॉपीरइट AFP

आईपीएल-6 में सट्टेबाज़ी और स्पॉट फ़िक्सिंग की जांच कर रही मुदगल कमेटी की रिपोर्ट पर पहली बार सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि 13 में से सात नामों की जांच की जा रही है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ बीसीसीआई ने सुप्रीम कोर्ट से कहा है कि चुनाव के लिए होने वाली उनकी सालाना बैठक स्थगित कर दी गई है.

सुप्रीम कोर्ट की बैंच में जस्टिस टीएस ठाकुर ने उन खिलाड़ियों के नामों को उजागर न करने के भी आदेश दिए, जिनके नाम मुदगल कमेटी की रिपोर्ट सामने आए हैं.

इमेज कॉपीरइट AP

जिन अन्य के नाम कोर्ट में सामने आए हैं, वे हैं - आईसीसी प्रमुख नारायणस्वामी श्रीनिवासन, उनके दामाद गुरुनाथ मयप्पन, राजस्थान रॉयल्स के सह मालिक राज कुंद्रा और पूर्व आईपीएल अफ़सर सुंदर रामन के नाम लिए हैं.

श्रीनिवासन, मयप्पन, राज कुंद्रा और सुंदर रामन को अगले चार दिनों में अपनी आपत्तियां दर्ज करने के निर्देश दिए गए हैं.

इमेज कॉपीरइट csk

जस्टिस मुदगल ने इनके ख़िलाफ़ 2013 में हुई आईपीएल के दौरान स्पॉट फ़िक्सिंग और सट्टेबाज़ी के आरोपों पर अपनी जांच रिपोर्ट सौंपी है.

पीटीआई के अनुसार कोर्ट ने कहा, “हमने रिपोर्ट देखी है और लगता है कि कुछ ख़ास लोगों की तरफ़ से गड़बड़ की गई. जांच के कुछ नतीजों में लगता है कि कुछ लोग दोषी मिले हैं, जिसकी पड़ताल चल रही है.”

कोर्ट ने कहा कि रिपोर्ट की एक प्रति बीसीसीआई और संबंधित लोगों को भी दी जाएगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार