एक खेल जहां, धरती उल्टी दिखती है..

  • 24 नवंबर 2014
एरोबेटिक फ्लाइंग

विश्व एरोबेटिक फ्लाइंग चैंपियनशिप का आयोजन दक्षिण अफ़्रीका में 26 नवंबर को होगा.

यह खेल ऐसा है जैसे ज़मीन से 600 मीटर ऊपर आसमान में फॉर्मूला वन कार रेस हो रही हो और फिर वहां से गोते लगाए जा रहे हों.

वीडियो देखें

Image caption इस खेल में पायलट आसमान में गोते लगाने के हुनर दिखाते हैं.

इस चैंपियनशिप में हिस्सा लेने वाले लोगों का कहना है कि यह स्केटिंग के साथ-साथ आसमान में गोते लगाने जैसा अनुभव है.

एरोबेटिक फ्लाइंग के दौरान पायलट अपने यान को 3,300 फ़ुट पर गोते लगाने वाले करतब करते हैं.

क़रीब चार मिनट की उड़ान के दौरान पायलट को बहुत सटीक आकलन करने और बेहद सजग रहने की ज़रूरत होती है.

जब हज़ारों फ़ुट ऊपर गोते लगा रहे होते हैं तो आपको धरती का एक विहंगम दृश्य दिखता है और बिल्कुल उल्टे होने के करतब रोंगटे खड़े कर देने वाले होते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार