बाउंसर से घायल फ़िल ह्यूज़ की मौत

  • 27 नवंबर 2014
फ़िल ह्यूज़ इमेज कॉपीरइट Getty

सिर में लगे बाउंसर के चलते गंभीर रूप से घायल हुए ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर फ़िलिप ह्यूज़ की मौत हो गई है.

ऑस्ट्रेलियाई टीम के डॉक्टर पीटर बुकनर ने एक बयान में कहा, "ये बताते हुए मुझे दुख हो रहा है कि कुछ देर पहले फ़िलिप ह्यूज़ का निधन हो गया."

इमेज कॉपीरइट Getty

ब्रुकनर के अनुसार सिडनी में अस्पताल में आने के बाद से उन्हें कभी होश आया ही नहीं.

ब्रुकनर ने कहा, "निधन से पहले वह दर्द में नहीं थे और उनके इर्द-गिर्द उनके परिजन और नज़दीक़ी दोस्त खड़े थे. क्रिकेटर समुदाय में हमें उनके निधन पर अफ़सोस है. हमारी संवेदनाएँ इस मौक़े पर उनके परिवार के साथ हैं."

इमेज कॉपीरइट Getty

ह्यूज़ ने साल 2009 से 2013 के बीच 26 टेस्ट मैच खेले थे.

इमेज कॉपीरइट Getty

शेफ़ील्ड शील्ड के एक मैच के दौरान दक्षिण ऑस्ट्रेलिया के लिए खेल रहे ह्यूज़ के हेलमेट पर, न्यू साउथ वेल्स के गेंदबाज शॉन एबॉट की गेंद ज़ोर से जा लगी.

चोट लगने के बाद ह्यूज़ अपने घुटने पकड़कर नीचे बैठ गए और उसके बाद वो मुँह के बल पिच पर गिर पड़े.

इमेज कॉपीरइट Getty

ह्यूज़ को स्ट्रेचर पर उठाकर मैदान से बाहर ले जाया गया. उसके बाद उन्हें एंबुलेंस से अस्पताल में भर्ती कराया गया जहाँ उनकी सर्जरी हुई.

अस्पताल में ले जाने से पहले उन्हें मुँह के ज़रिए साँस देने की कोशिश की गई थी.

इमेज कॉपीरइट Getty

ह्यूज़ ने साथी खिलाड़ी एस्टन एगर के साथ मिलकर 2013 में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ दसवें विकेट के लिए रिकॉर्ड 163 रनों की साझेदारी की थी.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption फ़िलिप ह्यूज़ पाकिस्तान के ख़िलाफ़ वनडे मैच खेलते हुए.

उन्होंने पिछले महीने संयुक्त अरब अमीरात में पाकिस्तान के ख़िलाफ़ एकदिवसीय मैच खेला था.

उनके मैदान पर गिरते ही विपक्षी खिलाड़ियों और अंपायरों ने उन्हें घेर ले लिया और उनकी स्थिति को देखते हुए तुरंत मेडिकल मदद माँगी.

माना जा रहा था कि उन्हें चार दिसंबर से शुरू हो रहे भारत-ऑस्ट्रेलिया टेस्ट मैच में टीम में शामिल किया जा सकता था.

सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में चल रहे द शेफ़ील्ड शील्ड शृंखला के इस मैच को रद्द कर दिया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार