ग़रीब हो गया है ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट: क्लार्क

माइकल क्लार्क इमेज कॉपीरइट AFP

इसे भाग्य की विडम्बना ही कहा जाएगा कि ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ फ़िल हयूज़ का रविवार को 26वां जन्मदिन है, लेकिन इस अवसर पर मैक्सविले हाई स्कूल के स्पोर्ट्स हाल में उनकी याद में सम्मान समारोह रखा जाएगा.

बीते गुरूवार को एक घरेलू मैच के दौरान सिर में बाउंसर लगने से उनका निधन हो गया था. क्रिकेटर बनने का सपना संजोए हयूज़ ने इसी स्कूल में अपनी पढाई की थी.

इन दिनों भारतीय क्रिकेट टीम भी ऑस्ट्रेलिया में हैं जहां वह चार टेस्ट मैचों की सिरीज़ खेलेगी. फ़िल हयूज़ का अंतिम संस्कार बुधवार को किया जाएगा.

इसे देखते हुए दोनों टीमों के बीच गुरुवार से शुरू होने वाले पहले टेस्ट मैच को स्थगित कर दिया गया है.

क्लार्क हुए भावुक

शनिवार को ऑस्ट्रेलिया के कप्तान माइकल क्लार्क फ़िल हयूज़ को श्रद्धाजंलि देने के लिए मीडिया के सामने भी आए.

इमेज कॉपीरइट PA
Image caption फ़िल ह्यूज़ को कुछ इस अंदाज़ में भी श्रद्धांजलि दी गई

बेहद भावुक माइकल क्लार्क ने कहा कि एक टीम के रूप में जो महसूस हो रहा है उसे शब्दों में व्यक्त करना मुश्किल है.

क्लार्क ने कहा कि दुनिया ने इस सप्ताह एक महान इंसान खो दिया और हम ग़रीब हो गए.

उन्होंने कहा, "हमारा ड्रैसिंग रूम अब वैसा नही रहेगा. हम उन्हें याद करते हैं और करते रहेंगे. क्लार्क ने यह भी कहा कि उनके परिवार का दुख उनका दुख हैं."

पहला टेस्ट टला

इस बीच, पहले टेस्ट मैच को स्थगित किए जाने के निर्णय को लेकर भारत के पूर्व स्पिनर मनिंदर सिंह ने सही ठहराया है.

इमेज कॉपीरइट Getty

उन्होंने कहा कि इस समय पूरी दुनिया के क्रिकेटर हिले हुए हैं. ऐसे में जब उनके साथ खेल रहे खिलाड़ियों को पहले टेस्ट मैच में उतरना पड़ता तो वह कैसे मैदान में उतर सकते हैं.

हालाँकि हयूज़ के परिवार ने भी कहा था कि मैच अपने निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार होना चाहिए.

मनिंदर सिंह कहते हैं कि ऑस्ट्रेलिया को तेज़ गेंदबाज़ शॉन एबट का भी ध्यान रखना चाहिए. एबट की ही बाउंसर पर ह्यूज़ के सिर में चोट लगी थी.

मनिंदर सिंह बताते हैं कि कई बार खिलाड़ी ऐसे हादसों का ख़ुद को ज़िम्मेदार मानने लगते हैं.

वह बताते हैं कि जिस गेंदबाज़ की गेंद पर फील्डिंग करते समय भारत के रमन लांबा को गेंद लगी और बाद में उनका निधन हुआ उस गेंदबाज़ ने बाद में क्रिकेट खेलना ही छोड दिया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार