दूसरा टेस्ट: होगी धोनी की अग्निपरीक्षा

  • 17 दिसंबर 2014
विराट कोहली इमेज कॉपीरइट AFP

भारत और ऑस्ट्रेलिया बुधवार को ब्रिस्बेन में चार टेस्ट मैचों की मौजूदा सिरीज़ के दूसरे टेस्ट मैच में आमने-सामने हैं.

अपने अंगूठे की चोट से उभरकर महेंद्र सिंह धोनी कप्तानी का भार संभाल रहे हैं.

टेस्ट मैच से पहले कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा, "ब्रिस्बेन में अलग तरह की चुनौती है. गाबा की विकेट एडीलेड के मुक़ाबले बिलकुल अलग हैं. भारतीय टीम का कोई भी खिलाड़ी इससे पहले यहां टेस्ट मैच नहीं खेला है."

चोटिल धोनी

इमेज कॉपीरइट AFP

धोनी एक लम्बे विश्राम के बाद मैदान में उतर रहे हैं.

इससे पहले वह अक्तूबर में भारत में वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ खेली गई एकदिवसीय सिरीज़ में धर्मशाला में खेले थे.

धोनी ने कहा कि उन्हें इंग्लैंड दौरे पर चोट लगी थी. सीधे हाथ के अंगूठे में चोट लगने से बल्लेबाज़ी करने में समस्या आ रही थी.

फिलहाल टेस्ट सिरीज़ चल रही है. इसके बाद बेहद महत्वपूर्ण विश्व कप है, इसलिए चोट से निपटना ज़रूरी था.

स्पिनर को मदद

इमेज कॉपीरइट pti

धोनी ने कहा कि गाबा तेज़ विकेट के लिए जाना जाता है. स्पिनर के लिए कुछ ख़ास नहीं होगा.

जैसे-जैसे खेल आगे बढ़ेगा, मिचेल जानसन जैसे तेज़ गेंदबाज़ ओवर द विकेट गेंद करेंगे. उनके जूतों से जो पैच बनेंगे, उससे ऑफ स्पिनर को मदद मिलेगी.

धोनी ने पहले टेस्ट मैच में भारत की हार का भी बचाव किया. उन्होंने कहा कि जीत के लिए आक्रामक खेलने की रणनीति ठीक थी.

इमेज कॉपीरइट Reuters

धोनी ने कहा दुर्भाग्य से मुरली विजय के आउट होने के बाद लगातार विकेट गिरते चले गए लेकिन उसकी वजह से टीम ड्रॉ के लिए नहीं खेल सकती थी.

विराट कोहली को लेकर उन्होंने कहा कि वह एक बेहतरीन बल्लेबाज़ और कप्तान हैं. इसका परिचय वह एकदिवसीय क्रिकेट में दे चुके हैं.

धोनी के अनुसार विराट उनसे अलग और आक्रामक हैं. इंग्लैंड में ख़राब दौर के बाद एडीलेड में उनकी बल्लेबाज़ी और पूरा प्रदर्शन शानदार रहा.

अच्छी बल्लेबाज़ी

इमेज कॉपीरइट AP

रोहित शर्मा को लेकर धोनी ने कहा कि उन्होंने एकदिवसीय मैचों में अच्छी बल्लेबाज़ी की हैं. उन पर भरोसा करना ज़रूरी है.

धोनी ने यह भी कहा कि अनुभवहीनता की कमी के कारण पिछली दो-तीन सिरीज़ में टीम टेस्ट मैच जीतते-जीतते रह गई, लेकिन एक बार अगर एक क़दम आगे बढ़कर प्रदर्शन करना शुरू किया तो परिणाम अलग होंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार