विश्व कप: टूट पाएंगे सचिन के रिकॉर्ड?

सचिन तेंदुलकर (फ़ाइल फोटो) इमेज कॉपीरइट AP

चार साल पहले विश्व विजेता टीम का हिस्सा रहे सचिन तेंदुलकर इस बार क्रिकेट के महाकुंभ में नहीं दिखेंगे.

1992 के बाद लगातार छह विश्व कप खेलने वाले तेंदुलकर ने विश्व कप में कई रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज कराए हैं.

क्या इस विश्व कप में उनके रिकॉर्ड टूट पाएंगे.

एक नज़र सचिन के रिकॉर्ड पर

सबसे अधिक रन

इमेज कॉपीरइट Getty

सचिन ने विश्व कप के 45 मैचों की 44 पारियों में 56.95 की औसत से 2278 रन बनाए.

इस विश्व कप में खेल रहे खिलाड़ियों में श्रीलंका के कुमार संगकारा के नाम पर सर्वाधिक 991 रन दर्ज हैं.

उनके बाद श्रीलंका के ही एक अन्य बल्लेबाज माहेला जयवर्धने (975 रन) का नंबर आता है.

संगकारा को तेंदुलकर की बराबरी पर पहुंचने के लिये 1287 और जयवर्धने को 1303 रनों की ज़रूरत पडेगी जो कि असंभव लगता है.

बताते चलें कि किसी एक विश्व कप में सर्वाधिक रन का रिकार्ड भी तेंदुलकर के नाम पर ही है. उन्होंने 2003 में 11 मैचों में 673 रन बनाए थे.

सबसे अधिक पारियां

इमेज कॉपीरइट PTI

तेंदुलकर ने हालाँकि रिकी पोंटिंग से एक मैच कम खेला है, लेकिन सर्वाधिक पारियां खेलने का रिकॉर्ड सचिन के नाम पर है.

उन्होंने 44 जबकि पोंटिंग ने 42 पारियां खेली हैं. विश्व कप 2015 में खेल रहे खिलाडियों में जयवर्धने (29 पारियां) और संगकारा (28 पारियां) सबसे आगे हैं और अगर उनकी टीम फ़ाइनल तक भी पहुँच जाती है तब भी वे तेंदुलकर के रिकॉर्ड तक नहीं पहुँच पाएंगे.

इस विश्व कप में एक टीम को अधिक से अधिक नौ मैच खेलने को मिलेंगे.

सेंचुरी और हाफ़ सेंचुरी

इमेज कॉपीरइट AFP

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 100 शतक जडने वाले तेंदुलकर ने विश्व कप में रिकॉर्ड छह सेंचुरियाँ लगाई हैं.

अभी खेल रहे बल्लेबाज़ों में एबी डिविलियर्स और जयवर्धने के नाम पर विश्व कप में तीन-तीन शतक दर्ज हैं.

ये दोनों बल्लेबाज़ अच्छी फ़ॉर्म में हैं और ऐसे में उनकी नज़र तेंदुलकर के सर्वाधिक शतकों के रिकॉर्ड पर रहेगी.

लेकिन तेंदुलकर के अर्धशतकों के रिकॉर्ड तक पहुँचना किसी के लिए भी मुश्किल होगा.

सचिन ने इस टूर्नामेंट में 15 अर्धशतक लगाए हैं. उनके बाद जाक कैलिस (नौ अर्धशतक) का नंबर आता है जो संन्यास ले चुके हैं.

विश्व कप में भाग ले रहे खिलाडियों में संगकारा सात अर्धशतक के साथ शीर्ष पर हैं.

सबसे अधिक चौके

इमेज कॉपीरइट AP

विश्व कप में चौके जड़ने के मामले में तेंदुलकर नंबर एक हैं. उन्होंने छह विश्व कप में रिकॉर्ड 241 चौके लगाए हैं.

तेंदुलकर के बाद पोंटिंग (145) और एडम गिलक्रिस्ट (141) का नंबर है और दोनों ही रिटायर हो चुके हैं.

वर्तमान बल्लेबाजों में जयवर्धने और संगकारा दोनों ने समान 90 चौके लगाए हैं. तेंदुलकर के रिकॉर्ड तक पहुंचने के लिए उन्हें 151 चौके लगाने होंगे.

यहाँ ध्यान देना होगा कि अभी तक किसी एक विश्व कप में सर्वाधिक 75 चौके लगे हैं. सचिन ने यह कारनामा 2003 में अफ्रीका महाद्वीप में खेले गए विश्व कप में किया था.

सबसे अधिक गेंद खेलना

इमेज कॉपीरइट Getty

विश्व कप में सर्वाधिक गेंदों का सामना करने और सर्वाधिक मिनट क्रीज पर बिताने का रिकॉर्ड भी तेंदुलकर के नाम पर है.

उन्होंने विश्व कप में 2560 गेंदों का सामना किया है. उनके अलावा केवल एक अन्य बल्लेबाज 2000 से अधिक गेंदों का सामना कर पाया और वह पोंटिंग (2180 गेंदें) हैं.

संगकारा और जयवर्धने इस रिकॉर्ड के सबसे ज़्यादा नजदीक हैं. संगकारा ने 1259 और जयवर्धने ने 1112 गेंदें खेली हैं.

संगकारा को तेंदुलकर के रिकॉर्ड तक पहुंचने के लिए 1301 और जयवर्धने को 1448 गेंदें खेलनी होंगी.

जहाँ तक क्रीज पर सबसे अधिक समय बिताने की बात है तो तेंदुलकर ने विश्व कप में 3641 मिनट बल्लेबाज़ी की है. पोंटिंग (2899 मिनट) दूसरे स्थान पर हैं जबकि वर्तमान समय में संगकारा (1908 मिनट) सबसे ऊपर हैं.

सचिन से यह श्रीलंकाई बल्लेबाज़ 1733 मिनट पीछे है.

(यदि आप बीबीसी हिन्दी का एंड्रॉएड ऐप देखना चाहते हैं तो यहां क्लिक करें. सोशल मीडिया जैसे फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी आप हमें फ़ॉलो कर सकते हैं.)