ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को 111 रन से हराया

एरोन फ़िंच इमेज कॉपीरइट GETTY IMAGES

ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को 111 रन से हराकर क्रिकेट विश्व कप में अपने विजय अभियान की शुरुआत की.

टॉस इंग्लैंड ने जीता और ऑस्ट्रेलिया को पहले बल्लेबाज़ी करने को कहा.

सलामी बल्लेबाज़ एरोन फ़िंच के 135 रनों की धमाकेदार पारी खेली. उन्हें मैन ऑफ़ द मैच घोषित किया गया.

साथ ही ग्लेन मैक्सवेल (66) और जॉर्ज बैली (55) की हाफ़ सेंचुरियों की बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने निर्धारित 50 ओवरों में 9 विकेट पर 342 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया.

बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड की टीम शुरू से ही दबाव में दिखी और उसके पाँच विकेट मात्र 73 रन पर गिर गए.

जेम्स टेलर (98) ने इंग्लैंड को मुक़ाबले में खड़ा करने का प्रयास किया, लेकिन पूरी टीम 41.5 ओवरों में 231 रनों पर सिमट गई.

ऑस्ट्रेलियाई दबदबा

इमेज कॉपीरइट GETTY

ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज़ों ने इंग्लैंड के किसी भी गेंदबाज़ को हावी नहीं होने दिया.

जेम्स एंडरसन, क्रिस ब्रॉड, वॉक्स किसी भी गेंदबाज़ की एक न चली.

फ़िंच ने 128 गेंदों पर 12 चौकों और तीन छक्कों की मदद से 135 रनों की धमाकेदार पारी खेली. वह रन आउट हुए.

इंग्लैंड रहा दबाव में

इतने बड़े लक्ष्य का पीछा करने के लिए इंग्लैंड को मज़बूत और तेज़ बल्लेबाज़ी की ज़रूरत थी, लेकिन मिशेल मार्श की घातक गेंदबाज़ी ने इंग्लैंड को एक के बाद एक पांच झटके दिए.

इमेज कॉपीरइट GETTY IMAGES

नियमित अंतराल पर इंग्लैंड के विकेट गिरते चले गए और उसके हौंसले पस्त होते चले गए.

चोटी के छह बल्लेबाज़ 100 रन से पहले ही पैवेलियन लौट चुके थे.

वो तो भला हो जेम्स टेलर का. जिन्होंने 90 गेंदों पर 11 चौकों और दो छक्कों की मदद से 98 रन की पारी खेली.

दूसरे छोर पर कोई भी बल्लेबाज़ उनका साथ नहीं दे सका और इंग्लैंड यह मैच गंवा बैठा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार