क्या भारतीय टीम होली के दिन मनाएगी दीवाली?

धोनी इमेज कॉपीरइट AFP

शुक्रवार को जहां भारत में सभी लोग होली के रंग में सराबोर हो रहे होंगे वही विश्व कप क्रिकेट टूर्नामेंट में भारत वेस्टइंडीज़ का सामना कर रहा होगा.

वेस्टइंडीज़ के पूर्व कप्तान और उसके अहम खिलाड़ी डेरेन सैमी ने यह कहकर माहौल को और गर्मा दिया है कि रंगों की होली भारत को मुबारक हो जीत का रंग वेस्टइंडीज़ भरेगी.

वैसे दोनो टीमें आत्मविश्वास से लबरेज़ हैं.

आत्मविश्वास से भरी वेस्टइंडीज़

भारतीय टीम अभी तक अपने तीनों मैच जीतकर पूल बी में एकमात्र अपराजित टीम है और छह अंकों के साथ पहले स्थान पर है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

वेस्टइंडीज़ की टीम ने चार मैच खेले हैं जिनमें से दो में जीत और दो में हार मिली है. पाकिस्तान के बराबर चार अंकों के बावजूद मुक़ाबले बेहतर औसत के चलते वह तीसरे स्थान पर है.

भारत ने अभी तक पाकिस्तान, दक्षिण अफ्रीका और संयुक्त अरब अमीरात को बेहद आसानी से हराया है.

वेस्टइंडीज़ की टीम अपने पहले ही मुक़ाबले में आयरलैंड से चार विकेट से हारी, वह भी सात विकेट पर 304 रन बनाने के बावजूद. इसके बाद वेस्टइंडीज़ ने पाकिस्तान को 150 रनों के बडे अंतर से हराया.

अपने तीसरे मुक़ाबले में वेस्टइंडीज़ के क्रिस गेल का कहर ज़िम्बाब्वे पर टूटा और उन्होने विश्व कप के इतिहास का पहला दोहरा शतक जमाते हुए 215 रन बनाए.

इमेज कॉपीरइट AFP

उनकी इस ऐतिहासिक पारी की मदद से वेस्टइंड़ीज़ ने ज़िम्बाब्वे को 73 रन से मात दी. इन लगातार दो जीत के बाद वेस्टइंडीज़ का आत्मविश्वास लौट आया.

अब यह बात अलग है कि वेस्टइंडीज़ को अपने चौथे मैच में दक्षिण अफ्रीका के हाथों 257 रनों की रिकॉर्ड दूसरी सबसे बड़ी हार का सामना करना पडा.

लय में भारत

मौजूदा विश्व कप में भारत को शुरूआत में एक कमज़ोर टीम के रूप में माना जा रहा था, लेकिन पाकिस्तान के ख़िलाफ शिखर धवन के 73 और विराट कोहली की 107 रनों की शतकीय पारी ने माहौल को एकदम बदल दिया.

दूसरी तरफ सबसे कमज़ोर कड़ी माने जा रहे भारतीय गेंदबाज़ भी अपनी लय में आ गए और उसका सबसे बड़ा सबूत उन्होंने अगले ही मैच में दिया.

इमेज कॉपीरइट AP

भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 130 रन से हराया. भारतीय गेंदबाज़ों ने दक्षिण अफ्रीका का पुलिंदा महज़ 177 रनों पर बांधा तो शिखर धवन ने गरजते हुए 137 रन बरसाए.

संयुक्त अरब अमीरात के ख़िलाफ भारत के गेंदबाज़ एक बार फिर शानदार प्रदर्शन करने में कामयाब रहे और उसे 102 रन पर ही ढेर किया. ज़ाहिर है कि भारत को आसानी से जीतना था, और हुआ भी ऐसा ही.

सबसे बड़ी बात रोहित शर्मा ने 57 रनों की पारी खेली. अब विरोधी टीम भले ही कमज़ोर हो लेकिन रन तो रन हैं.

इस विश्व कप में तो वैसे भी जिस टीम को भी मौक़ा मिल रहा है वह बड़ा स्कोर बनाने से चूक नहीं रही.

इमेज कॉपीरइट AFP

भारत और वेस्टइंडीज़ के बीच होने वाले मुक़ाबले को लेकर अधिकतर क्रिकेट पंडितों का कहना है कि भारत जीत सकता है क्योंकि वेस्टइंडीज़ की गेंदबाज़ी में धार नही हैं.

अब भला क्रिस गेल के सहारे ही कब तक वेस्टइंडीज़ की नैय्या पार लगती रहेगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार