साइना ख़िताबी बाधा पार नहीं कर पाईं

साइना नेहवाल इमेज कॉपीरइट AP

भारत की साइना नेहवाल ने ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप के ख़िताबी मुक़ाबले में संघर्ष के बाद परास्त हो गईं.

साइना को स्पेन की केरोलिना मरीन ने 16-21, 21-14, 21-7 से परास्त किया.

इसके साथ ही साइना को चैंपियनशिप में उपविजेता के रूप में संतोष करना पड़ा.

साइना इस टूर्नामेंट में खिताबी मुक़ाबले में जगह बनाने वाली भारत की पहली महिला खिलाड़ी थीं.

तीसरी भारतीय?

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption साइना पूर्व विश्व चैंपियन वांग यिहान को हराकर सेमीफ़ाइनल में पहुँची थीं.

साइना नेहवाल ने मैच की ज़ोरदार शुरुआत की और पहला गेम 21-16 से जीत लिया.

लेकिन दूसरे गेम में उनके क़दमों की रफ़्तार कुछ धीमी हुई और मरीन ने इसका लाभ उठाते हुए साइना पर जवाबी हमला बोल दिया.

दूसरा गेम 21-14 से जीतने के बाद तो मरीन ने साइना को वापसी का कोई मौका नहीं दिया और तीसरा और निर्णायक गेम आसानी से 21-7 से जीतते हुए ख़िताब पर भी कब्जा कर लिया.

साइना अगर यह ख़िताब जीत जाती तो प्रकाश पादुकोण और पुलेला गोपीचंद के बाद ऐसा करने वाली तीसरी भारतीय होतीं.

शनिवार को साइना ने चीन की सुन यु को लगातार गेम्स में 21-13, 21-13 से पराजित किया.

इससे पहले, साइना ने चीन की ही खिलाड़ी और पूर्व विश्व चैंपियन वांग यिहान को हराकर सेमी-फ़ाइनल में प्रवेश किया था.

यिहान पर साइना की ये पहली जीत थी. साइना ने ये जीत महज़ 39 मिनट में हासिल की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार