भारत का विजय रथ रोक पाएगा आयरलैंड?

  • 9 मार्च 2015
भारतीय टीम इमेज कॉपीरइट AFP

विश्व कप क्रिकेट टूर्नामेंट में मंगलवार को भारत का सामना आयरलैंड से होगा.

पूल बी में भारतीय टीम अभी तक अपने सभी चार मुक़ाबले ऑस्ट्रेलिया में ही खेली है, लेकिन आयरलैंड के ख़िलाफ़ वह न्यूज़ीलैंड की ज़मीन पर अपना अभियान शुरू करेगी.

इस विश्व कप में पूल ए में न्यूज़ीलैंड और पूल बी में भारत ही ऐसी टीमें हैं जो अभी तक अजेय हैं.

भारत ने अभी तक पाकिस्तान, दक्षिण अफ्रीका, संयुक्त अरब अमीरात और वेस्टइंडीज़ को मात दी है.

वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ भारत ने थोड़ा संघर्ष ज़रूर किया था, लेकिन बाकी मुक़ाबले भारत ने आसानी से जीते हैं.

भारत लगातार चार जीत के साथ क्वार्टर फ़ाइनल में भी अपनी जगह पक्की कर चुका है.

आयरलैंड से सामना

इमेज कॉपीरइट GETTY IMAGES

दूसरी तरफ़, आयरलैंड का विश्व कप अभियान भी शानदार रहा है. टूर्नामेंट शुरू होने से पहले इस टीम को ज़्यादा अहमियत नहीं दी जा रही थी.

आयरलैंड ने सबसे पहले तो इस विश्व कप का सबसे बड़ा उलटफेर करते हुए वेस्टइंडीज़ को चार विकेट से मात दी. आयरलैंड के सामने जीत के लिए 305 रनों का बड़ा लक्ष्य था. आयरलैंड ने पॉल स्टर्लिंग (92), एड जॉयस (84) और नील ओब्रायन की नाबाद 79 रन की पारियों की बदौलत इस विशाल लक्ष्य को हासिल किया.

भारत के ख़िलाफ़ भी आयरलैंड की यही तिकड़ी सबसे बड़ा ख़तरा होगी.

आयरलैंड ने इसके बाद संयुक्त अरब अमीरात को केवल चार गेंद शेष रहते दो विकेट से हराया और जीत के लिए 279 रन बनाए. इस बार विकेटकीपर ग्रे विल्सन का बल्ला चला और उन्होने 80 रन बनाए.

इमेज कॉपीरइट Getty

आयरलैंड को इस विश्व कप में एकमात्र हार दक्षिण अफ्रीका से मिली हैं. दक्षिण अफ्रीका ने उसे 201 रन से हराया.

उसके बाद आयरलैंड ने इस एक रोमांचक मुक़ाबले में ज़िम्बाब्वे को 5 रन से हराया.

कड़ी टक्कर मुमकिन

इमेज कॉपीरइट AFP

आयरलैंड के इस प्रदर्शन को देखते हुए नहीं लगता की यह टीम आसानी से भारत के सामने हथियार डालेगी.

आयरलैंड हर हाल में इस मुक़ाबले को जीतना चाहेगा क्योंकि अभी वह 6 अंको के साथ पूल बी में चौथे नंबर पर हैं.

वहीं भारतीय क्रिकेट टीम के शानदार प्रदर्शन से उसके विरोधी भी हैरान हैं. किसी ने भी उम्मीद नहीं की थी कि भारत इतनी आसानी से विश्व कप जीतने की सबसे बड़ी दावेदार मानी जा रही दक्षिण अफ्रीका की नाक में नकेल कस देगा.

भारत ने उस मैच को 130 रन से जीता और एक ही झटके में दक्षिण अफ्रीका से पुराना हिसाब-किताब चुकता कर दिया.

गेंदबाज़ी में दम

इमेज कॉपीरइट Getty

भारत की कामयाबी में गेंदबाज़ों की भूमिका सबसे अधिक महत्वपूर्ण रही है.

मोहम्मद शमी अभी तक 3 मैचों में 9, उमेश यादव 4 मैचों में 6, मोहित शर्मा भी 4 मैचों में 6 और आर अश्विन कमाल की गेंदबाज़ी करते हुए चार मैचो में 9 विकेट ले चुके हैं.

बल्लेबाज़ी में भले ही अभी तक शिखर धवन, रोहित शर्मा, और सुरेश रैना से लेकर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के प्रदर्शन में निरतंरता नही हैं, लेकिन विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे के फॉर्म में रहते फिलहाल चिंता की कोई बात नही हैं.

वैसे शिखर धवन ने पाकिस्तान के ख़िलाफ 73 और दक्षिण अफ्रीका के ख़िलाफ 137 रनों की पारी खेलकर सही समय पर भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई.

हां, इस मुक़ाबले पर पाकिस्तान की नज़र भी रहेगी क्योंकि अगर भारत जीता तो उसके क्वार्टर फाइनल में पहुंचने की राह आसान हो जाएगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार