क्या दक्षिण अफ्रीका दबाव नहीं झेल पाता?

  • 18 मार्च 2015
दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम इमेज कॉपीरइट REUTERS

विश्व कप क्रिकेट का असली रोमांच बुधवार से शुरू हो रहा है.

अब अंतिम चार में पहुंचने के लिए पहले क्वार्टर फाइनल में साल 2011 विश्व कप की उपविजेता श्रीलंका का सामना दक्षिण अफ्रीका से है.

इस विश्व कप में श्रीलंका के कुमार संगकारा ने कमाल की बल्लेबाज़ी करते हुए लगातार चार शतकों की मदद से 496 रन बनाए हैं तो तिलकरत्ने दिलशान ने भी दो शतक की मदद से 395 रन बनाए हैं.

गेंदबाज़ी का असर!

इमेज कॉपीरइट AP

दूसरी तरफ दक्षिण अफ्रीका के कप्तान एबी डिविलियर्स ने भी 417 रन बनाकर धमाकेदार प्रदर्शन किया है लेकिन टीम को अभी भी मिलर और जेपी डूमिनी से दमदार बल्लेबाज़ी की उम्मीद है.

दोनों टीमों के गेंदबाज़ इतने असरदार नही दिखे हैं. दक्षिण अफ्रीका हर हाल में चोकर्स जैसे जुमले से बचने की कोशिश करेगा. दरअसल विश्व कप के बड़े मुकाबलों में दक्षिण अफ्रीका हर बार हारा है.

दक्षिण अफ्रीका विश्व कप क्रिकेट टूर्नामेंट में पहली बार साल 1992 में खेलने उतरा और सेमीफाइनल तक भी पहुंच गया था.

हार का सामना

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption दक्षिण अफ्रीकी टीम के बल्लेबाज़ फॉफ डु प्लेसिस.

इंग्लैंड के ख़िलाफ वर्षा से बाधित मैच में दक्षिण अफ्रीका को डकवर्थ-लूइस नियम के आधार पर एक गेंद पर 21 रन बनाने का निर्देश मिला. ऐसा होना नामुमकिन था और उसे 19 रन से हार का सामना करना पड़ा.

भारत-पाकिस्तान और श्रीलंका में साल 1996 में आयोजित विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका क्वार्टर फाइनल में वेस्टइंडीज़ से 19 रन से हारा.

साल 1999 में इंग्लैंड में हुए विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका का सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया से सामना था लेकिन मुक़ाबला टाई हो गया.

बेहतर रन औसत

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption श्रीलंका के विकेटकीपर बल्लेबाज़ कुमार संगाकारा.

214 रनों के लक्ष्य की तलाश में उसकी पूरी टीम 49.4 ओवर में 213 रन बना सकी. ऑस्ट्रेलिया सुपर सिक्स में दक्षिण अफ्रीका से बेहतर रन औसत के आधार पर फाइनल में पहुंचा.

साल 2003 में विश्व कप का आयोजन संयुक्त रूप से दक्षिण अफ्रीका, ज़िम्बाब्वे और कीनिया में हुआ. दक्षिण अफ्रीका सुपर सिक्स तक भी नही पहुंचा.

उसे लीग चरण के आखिरी मैच में श्रीलंका ने ही टाई मैच खेलने पर मजबूर किया.

ज़ोरदार मुकाबला

इमेज कॉपीरइट website

साल 2007 में वेस्टइंडीज़ में विश्व कप हुआ.

दक्षिण अफ्रीकी टीम सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ केवल 149 रनों पर ढेर हो गई और उसे सात विकेट से हार मिली.

साल 2011 का विश्व कप एक बार फिर संयुक्त रूप से भारत-श्रीलंका और बांग्लादेश में आयोजित हुआ. इस बार न्यूज़ीलैंड ने दक्षिण अफ्रीका को क्वार्टर फाइनल में ही 49 रन से हाराया.

इस विश्व कप में भी दक्षिण अफ्रीका को लीग मैचों में पहले तो भारत ने 130 रन से और उसके बाद पाकिस्तान ने भी डकवर्थ-लूइस नियम के आधार पर 29 रन से हराया.

अब क्वार्टर फाइनल में ज़ोरदार मुक़ाबला होने की उम्मीद है लेकिन दबाव दक्षिण अफ्रीका पर है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार