'तुमसे न हो पाएगा, तुम आईपीएल खेलो'

धोनी, क्लार्क इमेज कॉपीरइट Reuters

बीबीसी हिंदी ने अपने फ़ेसबुक पेज पर इस तस्वीर को शेयर किया और फ़ेसबुक यूज़र्स से अनुमान लगाने को कहा कि क्लार्क धोनी से क्या कह रहे होंगे.

इस पर ढेरों कमेंट आए हैं. ज़्यादातर यूज़र्स भारत की हार से दुखी और नाराज़ लग रहे हैं.

कुछ ने तो आपत्तिजनक कमेंट भी किए थे, जिन्हें फ़ेसबुक से हटा दिया गया है. लेकिन कुछ कमेंट मज़ेदार भी थे.

कुछ चुनिंदा कमेंट

इमेज कॉपीरइट Reuters

संतोष कुमार सिंह ने लिखा है- फ़्लाइट पकड़ो और आईपीएल खेलो. तुम से ना हो पाएगा.

कुछ इसी तरह के विचार मनमोहन गुप्ता के भी हैं.

अंकित दास- क्लार्क धोनी को बता रहे हैं, तू फुट ले यहां से. यहां तेरी एक नहीं चलने वाली.

देवेंद्र कुमार- वह कह रहे हैं कि दिल्ली दूर है.

यूज़र त्सूत्सू ने लिखा है- वह देखो एयरपोर्ट, वहीं से जाना, जल्दी पहुंचो.

जहाज़ दिखाने का विचार कई लोगों के ज़हन में आया जिनमें नितिन शर्मा भी एक थे.

इंद्र जाल्यान- वह देखो विराट और अनुष्का.

विराट और अनुष्का को लेकर कई टिप्पणियां की गईँ, जिनमें से कई शालीनता की सीमाएं लांघ रही थीं. बीबीसी हिंदी ने उन्हें डिलीट कर दिया है.

इमेज कॉपीरइट AP

अब्दुल बारी- मेरा स्कोर तो ज़रा देख कितना ऊपर है. तेरे बस की बात नहीं है धोनी वहां तक पहुंचना.

ऋषभ राज जैन- मुंह छुपाने के लिए कमरा वहां पर है.

भारत जी गवाडे- रात को पीने के लिए उस होटल में बैठना.

अनूप द्विवेदी- हम दोनों ही खेल में अपनी-अपनी टीम के लिए जी जान लगा देंगे बाकी रहा खेल का परिणाम, वह ऊपर वाले के हाथ है.

इमेज कॉपीरइट AFP

अदित्येंद्र प्रकाश मिश्रा- बहू और भाई शाम की चाय के लिए बुला रहे हैं.... मुझे हिंदी का एक मुहावरा याद आता है, 'सब दिन चंगे और त्यौहार के दिन नंगे'. भारतीय क्रिकेट टीम साबित करती है कि उनके लिए यह हर बार सही होता है.

संजीव तोमर- दिन में तारे नजर आ रहे होंगे.

साबिर अली- स्कोरबोर्ड को देख कितना बड़ा टार्गेट है. आप से न हो पाएगा.

भारत राम मल्कोटी- 2015 का वर्ल्डकप आप से उतना दूर है, जितना आकाश में उड़ता हुआ वो परिंदा !

इमेज कॉपीरइट Reuters

लक्ष्मण देवासी चटवारा- जा वीरू को ले आ.

अरविंद केवाई- वहां बैठकर देखना फ़ाइनल मैच.

सादी मुज्तबा- वहां आगे हटकर कबड्डी का मैदान है. जाकर वहीं खेला करो. यहां न आया करो हमें तंग करने... बच्चों के लिए अलग मैदान है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार