वनडे को अलविदा कहेंगे क्लार्क

क्लार्क इमेज कॉपीरइट AFP

ऑस्ट्रेलिया के कप्तान माइकल क्लार्क ने रविवार को विश्वकप फ़ाइनल के बाद वनडे क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की है.

33 साल के क्लार्क ने संवाददाताओं से कहा, "मुझे लगता है कि यह मेरे लिए सही समय है और टीम के लिए भी."

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने कहा कि उन्होंने 48 घंटे पहले ही यह फ़ैसला किया है. पिछले सप्ताह उन्होंने कहा था कि वह संन्यास लेने के बारे में नहीं सोच रहे हैं.

क्लार्क लंबे समय से पीठ दर्द की समस्या से जूझ रहे हैं. साथ ही उन्हें हैमस्ट्रिंग की भी परेशानी भी रही है.

टेस्ट करियर

इमेज कॉपीरइट AFP

क्लार्क ने अपने 12 साल के वनडे करियर में अब तक 244 वनडे में 7907 रन बनाए हैं. उनका अधिकतम स्कोर 130 है.

अपने टेस्ट करियर को लंबा खींचने के लिए क्लार्क ने वनडे को अलविदा कहने का फ़ैसला किया है.

क्लार्क ने 108 टेस्ट खेले हैं और 8432 रन बनाए. टेस्ट में उनका सर्वाधिक स्कोर 329 है.

उन्होंने कहा, "मैंने 48 घंटे पहले ही यह फ़ैसला किया है. मैंने ख़ुद से पूछा कि क्या मैं अगला विश्वकप खेलूंगा और मुझे लगा कि ऐसा होगा."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार