चैलेंजर्स-सन राइजर्सः बल्ले की है जंग

क्रिस गेल इमेज कॉपीरइट PTI
Image caption क्रिस गेल बंगलौर टीम के सलामी बल्लेबाज़ हैं.

आईपीएल-8 में सोमवार को सिर्फ़ एक मुक़ाबला खेला जाएगा. इसमें रॉयल चैलेंजर्स बेंगलौर सन राइज़र्स हैदराबाद का सामना करेगी.

इससे पहले बेंगलौर ने सलामी बल्लेबाज़ क्रिस गेल के धुआंधार 96 रनों की मदद से शनिवार को कोलकाता नाइट राइडर्स को एक ओवर शेष रहते तीन विकेट से मात दी.

दूसरी तरफ सन राइजर्स हैदराबाद अपने पहले मैच में चेन्नई सुपर किंग्स से 45 रनों के बडे अंतर से हारी थी.

(पढ़ें: चेन्नई का चमत्कार दिखेगा?)

तब चेन्नई के सलामी बल्लेबाज़ ब्रैंडन मैक्कुलम ने हैदराबाद के गेंदबाज़ों की जमकर धुलाई करते हुए केवल 56 गेंदों पर नाबाद 100 रन की पारी खेली थी.

कोहली का बल्ला

इमेज कॉपीरइट PTI

ब्रैंडन मैक्कुलम का शतक इस आईपीएल का पहला शतक था.

बेंगलौर के कप्तान विराट कोहली रनों के सूखे को समाप्त करना चाहेंगे. विराट कोहली का बल्ला पिछले आईपीएल में ज़्यादा नहीं चला था.

(पढ़ेंः कोलकाता बनाम बेंगलौर)

उन्होंने 14 मैचों में 359 रन ही बनाए थे, जबकि साल 2013 के सीज़न में उन्होंने 634 रन बनाए थे. कोलकाता के ख़िलाफ वह केवल 13 रन ही बना सके थे.

क्रिस गेल ने इस बार शुरुआत बेहद दमदार की है. पिछले साल वह भी अपना रंग अधिक नहीं दिखा सके थे और उन्होंने नौ मैचों में 196 रन बनाए थे.

इमेज कॉपीरइट AP

उनकी असली चमक 2012 और 2013 में दिखी. 2012 में उन्होंने 733 और 2013 में उन्होंने 708 रन बनाए थे.

बेंगलौर को दिनेश कार्तिक और एबी डिविलियर्स से भी बड़ी पारी की उम्मीद होगी. कोलकाता के ख़िलाफ वह सस्ते में ही आउट हो गए थे. बेंगलौर के पास डेरेन सैमी जैसा आलराउंडर भी हैं.

कमज़ोर है गेंदबाज़ी

सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान डेविड वार्नर और उनके जोड़ीदार शिखर धवन बेहद आक्रामक बल्लेबाज़ हैं. दोनों ही शुरू में कुछ हिचकिचाहट के साथ शॉट लगाते हैं, जबकि एक बार जम जाने के बाद उनका खेल निखरता चला जाता है.

इमेज कॉपीरइट PTI

हैदराबाद के पास इनके बाद चमत्कारिक बल्लेबाज़ के नाम पर नमन ओझा और केन विलियमसन ही हैं. लोकेश राहुल को अभी अपना दमख़म दिखाना होगा.

गेंदबाज़ी में अगर डेल स्टेन मैदान में उतरे तो हैदराबाद के लिए उम्मीद है. उनकी ग़ैर-मौजूदगी में ईशांत शर्मा, भुवनेश्वर कुमार और ट्रैंट बोल्ट अपनी लय ही हासिल नहीं कर सके हैं.

दूसरी तरफ बेंगलौर की गेंदबाज़ी भी इतनी पैनी नहीं हैं. ऐसे में जिस टीम का बल्ला बोलेगा वह जीतेगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार