दिल्ली या मुंबई, कौन मारेगा बाज़ी

  • 5 मई 2015
हरभजन सिंह, क्रिकेट खिलाड़ी, आईपीएल इमेज कॉपीरइट PTI

आईपीएल-8 में मंगलवार को मुंबई इंडियंस अपने ही मैदान पर दिल्ली डेयरडेविल्स का सामना करेगी.

मुंबई इंडियंस अभी तक नौ में से चार मैच जीती है और पांच में उसे हार का सामना करना पड़ा है. इत्तेफाक़ से दिल्ली का भी बिल्कुल यही हाल है. दोनों ही टीमों के समान रूप से 8-8 अंक हैं.

मुंबई इंडियंस ने अपने पिछले मुक़ाबले में किंग्स इलेवन पंजाब को 23 रन से मात दी, वो भी उसी के मैदान मोहाली पर. मोहाली में मुंबई के सलामी बल्लेबाज़ लेंडल सिमंस ने 71 रनों की ज़ोरदार पारी खेली.

इससे पहले वह राजस्थान के ख़िलाफ़ 38 और हैदराबाद के ख़िलाफ़ 51 रन बना चुके हैं. मुंबई ने अपने पिछले तीनों में मैच जीत हासिल की है.

इन तीन लगातार जीत से मुंबई के खिलाड़ियों के चेहरे की रौनक लौट आई है. मुंबई ने इनमें से 2 मैच अपने मैदान पर जीते हैं, यानी अपने घर में खेलने का लाभ मुंबई को मिला है.

पटेल के बल्ले की धमक

इमेज कॉपीरइट PTI

मुंबई के लिए राहत की बात यह भी है कि उनके विकेटकीपर बल्लेबाज़ पार्थिव पटेल ने पंजाब के ख़िलाफ 59 रनों की तेज़ पारी खेली. इस सीज़न में ये उनका पहला अर्धशतक था.

वैसे दिल्ली ने पिछले मुक़ाबले में मुंबई को 37 रन से करारी मात दी थी. अब दोनों टीमों के लिए एक-एक जीत मायने रखती है. दिल्ली के कप्तान जेपी डूमिनी ने मुंबई के ख़िलाफ़ नाबाद 78 रन बनाए थे.

इसके अलावा इस बार वह गेंदबाज़ी में भी उपयोगी साबित हो रहे हैं. दिल्ली अपना पिछला मुक़ाबला राजस्थान रॉयल्स के 14 रनों से हारी थी.

दिल्ली के सबसे बड़े स्टार खिलाड़ी युवराज सिंह अभी तक केवल पंजाब के ख़िलाफ ही 54 रनों की अर्धशतकीय पारी खेल सके हैं.

गेंदबाज़ों की परीक्षा

इमेज कॉपीरइट AFP

पिछली तीन पारियों में उन्होंने राजस्थान के ख़िलाफ 22, और बैंगलुरु और मुंबई के ख़िलाफ 2-2 रन ही बनाए हैं. हर कोई उन्हें मिले करोड़ों रुपए की चर्चा कर रहा है, उनके खेल की नहीं.

गेंदबाज़ी में दिल्ली के ज़हीर खान मैदान में उतरे तो पहले मैच में पंजाब के ख़िलाफ दो विकेट लेने में कामयाब रहे लेकिन राजस्थान के ख़िलाफ वह कुछ नहीं कर सके.

दिल्ली ने पहली बार ऑस्ट्रेलियाई आलराउंडर गुरिंदर संधू को भी पिछले मैच में खिलाया लेकिन वह चार ओवर में 49 रन देकर महंगे साबित हुए.

आंकड़ों में दोनों टीमें अभी तक 15 बार आमने-सामने हुई हैं जिनमें 7 बार मुंबई और 8 बार दिल्ली जीती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार