पंजाब पर भारी विराट कोहली की टीम

विराट कोहली इमेज कॉपीरइट PTI

आईपीएल-8 में बुधवार को भी केवल एक ही मुक़ाबला खेला जाएगा.

विराट कोहली की कप्तानी में खेल रही रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर अपने ही घर में किंग्स इलेवन पंजाब का सामना करेगी.

इस सीज़न में बैंगलोर अभी तक 9 में से चार मैच जीती है और इतने ही मैचों में उसे हार का सामना करना पड़ा है.

उसका एक मैच बारिश की भेंट चढ़ा. दूसरी तरफ पंजाब की टीम की हालत तो इस बार सबसे ज़्यादा ख़राब है.

पिछले सीज़न में तहलका मचाने वाली पंजाब अभी तक खेले गए 9 मैचों में केवल 2 मैच ही जीत सकी है और 7 में उसे हार का सामना करना पड़ा है.

पंजाब की कमज़ोरी

इमेज कॉपीरइट IPL

पंजाब को पिछले मुक़ाबले में मुंबई इंडियंस ने आसानी से 23 रनों से मात दी थी.

पंजाब की सलामी जोड़ी वीरेंदर सहवाग और मुरली विजय किसी भी मैच में शानदार शुरुआत नहीं दे सकी है.

सहवाग तो पिछले पांच मैचों में केवल 16 रन बना सके हैं. इसके अलावा उनकी कमज़ोर फ़ील्डिंग भी कप्तान जॉर्ज बेली के लिए समस्या बनी हुई है.

मुरली विजय ने हांलाकि मुंबई के ख़िलाफ़़ 39, चेन्नई के ख़िलाफ़़ 34, मुंबई के ही ख़िलाफ़ पहले मैच में 35 और राजस्थान के ख़िलाफ़ 37 रन बनाए हैं.

लेकिन वो इन पारियों को बड़ी पारी में नहीं बदल सके हैं.

नहीं चले बल्लेबाज

इमेज कॉपीरइट AFP

पंजाब को ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ ग्लेन मैक्सवेल से भी बेहद उम्मीदें थीं, लेकिन वो अभी तक केवल एक ही मैच में कोलकाता के ख़िलाफ़ 33 रनों की ठीक-ठाक पारी खेल सके हैं.

तीन मैचों में तो वह दहाई तक भी नहीं पहुंचे और एक मैच में केवल 12 रन बना सके. डेविड मिलर ने कुछ दम-ख़म दिखाया है.

उन्होंने पिछले दो मैचों में मुंबई के ख़िलाफ़ 43 और दिल्ली के ख़िलाफ़ 42 रन बनाए.

कप्तान बेली ने भी मुंबई के ख़िलाफ़ नाबाद 61 और कोलकाता के ख़िलाफ़ 60 रन बनाए, बाकी मैचों में वह भी बेअसर रहे.

अब भला जिस टीम के मुख्य बल्लेबाज़ ही कुछ ना करे तो टीम कैसे जीते.

बैंगलोर की मज़बूती

इमेज कॉपीरइट AFP

दूसरी तरफ बैंगलोर पिछले मैच में चेन्नई के खिलाफ 124 रनों पर ही ढेर हो गई.

इसके बावजूद कप्तान विराट कोहली, क्रिस गेल, एबी डी विलियर्स, दिनेश कार्तिक और सरफ़राज़ खान जैसे बल्लेबाज़ों के दम पर वह किसी भी दिन किसी को भी हराने की क्षमता रखते हैं.

गेंदबाज़ी में मिचेल स्टार्क अभी तक 11 विकेट लेकर विरोधी खेमे में दहशत फैलाने में क़ामयाब रहे हैं.

आंकड़ों में दोनों टीमें अभी तक 14 बार आमने-सामने हुई हैं, जिनमें से 9 बार पंजाब और 5 बार बैंगलोर ने बाज़ी मारी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार