'सेक्स नहीं', तो क्रिकेट टीम में जगह नहीं

  • 23 मई 2015
इमेज कॉपीरइट REUTERS

श्रीलंका की महिला क्रिकेट टीम से जुड़ी बेहद सनसनीखेज ख़बर सामने आई है.

वहाँ के खेल मंत्रालय ने कहा है कि टीम में जगह बनाए रखने के लिए महिला क्रिकेटरों को 'सेक्स' के लिए मजबूर किया जाता था.

खेल मंत्रालय का कहना है कि यौन प्रताड़ना के सबूत पिछले साल शुरू हुई जाँच में सामने आए हैं.

पिछले साल जाँच ऐसी रिपोर्टों के सामने आने के बाद शुरू हुई थी, जिसमें कहा गया था कि क्रिकेट अधिकारियों के साथ सेक्स से इनकार करने के कारण एक खिलाड़ी को टीम से हटा दिया गया था.

श्रीलंका के खेल मंत्रालय ने इस मामले में किसी का नाम नहीं लिया है, लेकिन उसका कहना है कि अब अनुशासनात्मक प्रक्रिया शुरू की जाएगी.

श्रीलंका के बच्चों के मामलों से जुड़े मंत्री रोजी सेनानायके ने समाचार एजेंसी एएफ़पी से बातचीत में कहा है कि ये एक शर्मनाक घटना है.

अभी ये स्पष्ट नहीं है कि कथित रूप से इसमें शामिल अधिकारियों के ख़िलाफ़ क्या कार्रवाई की जाएगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)