ऑस्ट्रेलियन ओपन में फिर होंगी साइना पर नज़रें

साइना नेहवाल इमेज कॉपीरइट AFP GETTY

फ्रैंच ओपन टेनिस टूर्नामेंट की धूम के बीच मगंलवार से ऑस्ट्रेलियन ओपन में बैडमिंटन के कोर्ट पर भी दुनिया भर के मशहूर खिलाड़ी अपना दम-ख़म दिखाते हुए नज़र आएंगे.

इनमें भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल और पीवी सिंधू महिला एकल वर्ग में अपना दावा पेश करेंगी.

पुरूष एकल वर्ग में भारत के के श्रीकांत भी अपनी चुनौती चीनी और दूसरे खिलाड़ियों के सामने रखेंगे.

महिला युगल वर्ग में भारत की कमान ज्वाला गुट्टा और अश्विनी पोनप्पा संभालेंगी.

इमेज कॉपीरइट ADESH GUPT

साइना नेहवाल को ऑस्ट्रेलियन ओपन में दूसरी वरीयता दी गई है जबकि इन दिनों वह रैंकिंग में दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी है.

साइना नेहवाल को इस टूर्नामेंट में चीन की शीर्ष वरीयता हासिल खिलाड़ी ली ज़्यूईरूई और विश्व चैंपियन तथा आल इंग्लैंड चैंपियन स्पेन की कैरोलिना मरिन के दावो से भी निपटना पडेगा.

उल्लेखनीय है कि कैरोलिना मरिन ने साइना नेहवाल को आल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप के फाइनल में हराया था.

अब यह बात अलग है कि कैरोलिना मरीन को पिछली बार फाइनल में साइना नेहवाल से ही ऑस्ट्रेलियन ओपन में हार का सामना करना पड़ा था.

इमेज कॉपीरइट AP

इनके अलावा चौथी वरीयता हासिल चीन ताइपे की तेई ज़ू यिंग और पांचवी वरीयता हासिल चीन की शिज़ियान वांग और छठी वरीयता हासिल थाइलैंड की रत्चानोक इंतानोन भी किसी से कम नही है.

विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप में दो बार कांस्य पदक जीतकर एक नया इतिहास बनाने वाली भारत की पीवी सिंधू की फिटनेस पर भी सबकी नज़रे रहेंगी. पांव की चोट के कारण वह पिछले दिनो दो-तीन टूर्नामेंट से दूर रही थी.

पुरूष एकल वर्ग में भारत के के श्रीकांत ने पिछले साल चाइना ओपन जीतकर तहलका ही मचा दिया था. वैसे पिछले कुछ समय से उनके खेल में थोड़ी गिरावट आई है लेकिन वह अब बेहद मंझे हुए खिलाड़ी माने जाते है.

इमेज कॉपीरइट EPA

ऑस्ट्रेलियन ओपन में शीर्ष वरीयता हासिल चीन के चेन लोंग, दूसरी वरीयता हासिल चीन के ही लिन डैन और तीसरी वरीयता हासिल डेनमार्क के यान ओ योर्गेंसन का दावा भी मज़बूत है.

ऑस्ट्रेलियन ओपन से साइना की सुनहरी याद इस रूप में भी जुडी है कि पिछले साल इसे अपने नाम करने से पहले वह लगातार तीन टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में हारकर निराशा के दौर से गुज़र रही थी.

देखना है कि इस बार उनकी चुनौती कैसी रहती है और क्या वह ख़िताब बचा पाती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार